हल्दी के 10 फायदे, शुगर, मोटापा, अस्थमा पुरुषों और महिलाओं के रोगों का सफल इलाज

हल्दी एक महत्वपूर्ण औषधि है। इसका उपयोग रसोई घर से लेकर मांगलिक कार्यों तक किया जाता है, घरेलू उपचार के रूप में भी इसका कई तरह से इस्तेमाल किया जाता है।

चोट लगे तो हल्दी आजमाएं
यदि किसी कारण से शरीर के बाहरी या अंदरूनी हिस्से में चोट लग जाए, तो प्रभावित व्यक्ति को हल्दी वाला दूध पिलाएं। यह अपने एंटी बैक्टीरियल और एंटीसेप्टिक गुणों के कारण बैक्टीरिया को पनपने नहीं देता।

डायबिटीज में लाभकारी
हल्दी डायबिटीज के रोगियों के लिए लाभकारी है। इसके लिए हल्दी को  एक चम्मच आंवले के रस, एक चम्मच शहद और एक चम्मच गिलोय के रस के साथ मिलाकर पिएं।

शुगर, मधुमेह की समस्या की आयुर्वेदिक उपचार Dr. Nuskhe Glucowin Kit ऑर्डर करने के लिए क्लिक करें https://waapp.me/wa/JioemnmR

 

किडनी या गॉल ब्लैडर में पथरी को आयुर्वेदिक उपचार किट से खत्म करने के लिए Dr. Nuskhe Stone Killer किट
ऑर्डर करने के लिए क्लिक करें https://waapp.me/wa/9HZ6Y8NE

दूध के साथ हल्दी का सेवन 
हल्दी, मंजिष्ठा, गेरू, मुलतानी मिट्टी, गुलाब जल, एलोवेरा एवं कच्चे दूध को मिलाकर लेप तैयार करें। इसे चेहरे पर लगाने से त्वचा में निखार आता है। हल्दी वाला दूध पीने से त्वचा में प्राकृतिक चमक पैदा होती है।

यदि आप नजले, जुकाम, खांसी से परेशान हैं, तो गर्म दूध में एक चम्मच हल्दी मिलाकर पिएं, इससे लाभ होगा।
रोज सुबह खाली पेट गुनगुने दूध में हल्दी मिलाकर सेवन करें, तो शरीर के दर्द, पेट के रोग आदि से छुटकारा पा सकते हैं।

रक्त की सफाई करे हल्दी 
हल्दी के सेवन से रक्त साफ होता है।  इसके सेवन से रक्त में मौजूद विषैले तत्व बाहर निकल जाते हैं। अगर चोट लगने पर तेजी से खून बह रहा है, तो आप उस जगह तुरंत हल्दी डाल दें।  इससे खून बहना रुक जाएगा।

स्त्रियों के लिए हल्दी का उपयोग 
महिलाओं में होने वाले श्वेत प्रदर या ल्युकोरिया जैसे रोगों में हल्दी अत्यंत गुणकारी औषधि है। इसके लिए पांच ग्राम हल्दी और अंजीर के तीन टुकड़े का सेवन करने से लाभ होता है।

 

महिलाओं में होने वाले श्वेत प्रदर या ल्युकोरिया, अनियमित मासिक धर्म की आयुर्वेदिक उपचार किट आर्डर करने के लिए क्लिक करें http://bit.ly/2rs6HCq

और भी हैं हल्दी के इस्तेमाल

’हल्दी, खाने वाला चूना और शहद का लेप  बना कर इसे मोच, ऐंठन, चोट  या शरीर में आई सूजन वाली जगह पर लगाने से तुरंत लाभ होता है।
’एनीमिया, पीलिया, बवासीर, सांस के रोग और लगातार हिचकी आने की स्थिति में हल्दी और काली मिर्च के धुएं  को सूंघने से लाभ होता है।

’चर्म रोगों में एक चम्मच कच्ची हल्दी और एक चम्मच आंवले के रस को पानी के साथ लेने से लाभ होता है।

’देसी घी से यदि दुर्गंध आ रही हो, तो उसे दूर करने के लिए हल्दी के पत्तों को पीसकर घी के साथ उबाल लें। इसके बाद इसे छान लें। इससे घी की दुर्गंध दूर हो जाएगी।

हल्दी का प्राचीन काल से ही वैधशाला में प्रयोग होता आया है । हल्दी से शारीरिक कमजोरी भी दूर हो सकती है तथा हल्दी वीर्य को गाढ़ा भी करता है ।

आजकल ज्यादा पोर्न फिल्म देखने तथा बचपन की गलत हरकतों से वीर्य पतला हो जाता है । तथा सम्भोग करने की क्षमता भी कम हो जाती है । हल्दी के सेवन से हम वीर्य को गाढ़ा कर सकते हैं तथा  सम्भोग क्षमता बढ़ा सकते हैं।

💐हल्दी को एक चमच शहद के साथ सुबह सुबह खाली पेट लेने से हमारी सेक्स पावर 5 दिनों में बढ़ जायेगी । तथा सेक्स करने की क्षमता में पहले से ज्यादा इजाफा होगा । आपकी सेक्स जिन्दिगी पहले से ज्यादा सुखी होगी ।

धातु रोग, मर्दाना कमजोरी, देर तक नहीं टिकना 1 मिंट में निकल जाने की समस्या, शुक्राणु के पतलेपन की आयुर्वेदिक उपचार डॉ नुस्खे हॉर्स पावर किट ऑर्डर करने के लिए लिंक पर क्लिक करें https://waapp.me/wa/tSQUZRpC

’खुजली, दाद या त्वचा पर चकत्ते पड़ जाने पर हल्दी को गौ मूत्र के साथ मिलाकर इसका लेप प्रभावित जगह पर लगाएं, इससे जल्द आराम मिलेगा।

मोटापा दूर करे 
मोटापा कम करने के लिए हल्दी, नीबू, पुदीना, तुलसी और अदरक को आपस में मिलाकर चटनी बना लें। इसका नियमित सेवन करें, मोटापे पर काबू पाने में सफलता मिलेगी।

वज़न घटाने की आयुर्वेदिक उपचार Dr. Nuskhe Medwin Fat loss किट
ऑर्डर करने के लिए क्लिक करें https://waapp.me/wa/7mGGrJMY

मौसमी रोगों में फायदेमंद
’हल्दी की गांठों को नियमित रूप से चूसने से खांसी में राहत मिलती है। खांसी में हल्दी को भूनकर आधा चम्मच शहद या देसी घी के साथ खाने से भी लाभ होता है।

’जुकाम होने पर हल्दी पाउडर या हल्दी की गांठ को चूल्हे पर गर्म कर इससे निकलने वाले धुएं को सूंघें, लाभ होगा।
’सिरदर्द होने या चक्कर आने पर हल्दी का लेप सिर पर लगाने से लाभ होता होता है।

अस्थमा, दमा, खांसी और कफ की आयुर्वेदिक उपचार किट ऑर्डर करने के लिए लिंक पर Click करें https://waapp.me/wa/FeGFduuM

बरतें सावधानी

हल्दी का सेवन 3 से 5 ग्राम की मात्रा में ही करना चाहिए। विशेष स्थिति में आयुर्वेद विशेषज्ञ की सलाह से इसका सेवन करना चाहिए।

अगर आप अपनी पत्नी को संतुष्ट करना चाहते हैं तो
शीघ्रपतन, उत्तेजना की कमी, ढीलापन, वीर्य का कम निकलना आदि समस्याओं को दूर करके देर तक टिकने की घर बैठे ऑर्डर करें क्लिक करें डॉ नुस्खे हॉर्स ताकत किट https://waapp.me/wa/Vfg97ikJ

WhatsApp helpline – 7428858589

ankit1985

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

निल शुक्राणु सफल इलाज पिता बनने की चाहत रखने वाले पुरुष अवश्य आजमाएं

Wed Nov 27 , 2019
हल्दी एक महत्वपूर्ण औषधि है। इसका उपयोग रसोई घर से लेकर मांगलिक कार्यों तक किया जाता है, घरेलू उपचार के रूप में भी इसका कई तरह से इस्तेमाल किया जाता है। चोट लगे तो हल्दी आजमाएं यदि किसी कारण से शरीर के बाहरी या अंदरूनी हिस्से में चोट लग जाए, […]
Loading...

Breaking News

Loading...