पुरुषों में मरदाना ताकत बढ़ाने के 9 आयुर्वेदिक उपाय

अच्छी सेहत ही समाज में आपको प्रतिष्ठा दिलवाती है। यदि सेहत ठीक है तो आप हर तरह के कार्य को बखूबी निभा सकते हो। हर पुरूष चाहता है कि वह उन बीमारियों से दूर हो जो उसके वैवाहिक जीवन को प्रभावित करती हों। लेकिन दौड़भाग वाली जिंदगी में कुछ न कुछ कमी रही जाती है जिस वजह से शरीर में गुप्त बीमारियां लग ही जाती हैं। आइये जानते हैं किस तरह से पुरूष हमेशा इन बीमारियों से बच सके और स्वस्थ जीवन जी सके। आपको केवल कुछ उपायों को अपनाना है जिनसे आप खुशहाल जीवन जी सकें।

नपुंगसकता के कारण
खान पान में कमी,डायबिटीज होना,अत्याधिक नशा करना, अप्राकृतिक संबध।
गंभीर ऑपरेशन का होना, किडनी या लीवर का खराब होना, मनावैज्ञानिक कारण।
अधिक मात्रा में धूम्रपान और शराब का सेवन करना, हार्मोन्स की कमी की वजह से भी पुरूष नपुसंग हो सकते हैं।

पुरूषों में नपुसंकता के लक्षण
संभोग के समय जल्दी से थक जाना, इंद्री में कठोरता की कमी होना, आत्मविश्वास में कमी होना, इंद्री का छोटा हो जाना, घबराहट लगना, संभोग के लिए उत्तेजना ना होना आदि।


पौरूष शक्ति को बढ़ाने के लिए घरेलू उपाय
1. हमेंशा सर्दी हो या गर्मी गुड का सेवन अवश्य करें।
2. शरीर हमेंशा बलवान रहेगा यदि आप गरम दूध के साथ शतवारी का चूर्ण मिश्री के साथ लेते हैं।
3. शरीर की थकान और शरीर को उर्जावान बनाने के लिए पांव के तलवों पर पानी की धार 10 मिनट तक डालें। निश्चित ही फायदा होगा।

डॉ. नुस्खे पावर किट मंगाने के लिए WhatsApp Link click करें http://bit.ly/2VRLiwW
4. तुलसी के 2 पत्तों को हमेशा खाएं कभी बीमार नहीं पड़ोगे।
5. सुबह और शाम गाय के दूध का सेवन करना चाहिए।
6. पाचन शक्ति के लिए काली मिर्च, सूखा करी पत्ता, लौंग और सोंठ को पीसकर आधा चम्मच दूध के साथ मिलाकर सेवन करें ।
7. ताकत और उर्जा पाने के लिए शिलाजीत को दूध के साथ हमेशा पींये।


8. अश्वगंधा का सेवन दूध के साथ लेने से भी आपकी शक्ति बढ़ती है।
आम-दो से तीन महीने तक आम का रस पीने से नपुंसकता दूर होती है। यह शरीर की कमजोरी को दूर करके आपको उत्तेजित करती है।
गाजर-गाजर वीर्य को गाढ़ा बनाता है। और इसके सेवन से मर्दों की कमजोरी दूर होती है।


शहद-दूध के साथ शहद मिलाकर पीने से शरीर को बल मिलता है और यह नपुंसकता को भी दूरत करता है।
छुहारा-रोज सुबह दूध में भिगोए हुऐ छुहारों को खाने से पुरूष शक्ति बढ़ती है।

नपुंसकता के रोगियों को आयुवेर्दिक उपायों के अलावा अन्य उपाय जैसे खुले मैदान में घूमना, किसी पार्क में घूमना, सूर्य उगने से पहले टहलना और नदी के किनारे घूमना आदि करना चाहिए। प्राकृतिक हवा और पानी आपके अंदर स्फूर्ति और ताकत पैदा करती है।

नपुंसकता के इलाज के लिए आप पांच ग्राम मिश्री के दानें और पांच ग्राम ईसबगोल की भूसी को रोज सुबह के समय खाएं और इसके उपर दूध पी लें। इस उपाय से शीध्रपतन और नपुंसकता दोनों दूर होती हैं।

पुरुषों में मरदाना ताकत बढ़ाने की आयुर्वेदिक उपचार किट पाने के लिए WhatsApp 9654801188 करें

फ्री आयुर्वेदिक उपचार पाने के लिए नीचे दिए ग्रुप को लिंक पर क्लिक करें और आज ही जुड़ें https://rebrand.ly/freehealthtipsgroup

ankit1985

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

इन 12 नामों का जप करने वालों को हनुमान जी दिलाते हैं कष्टों से मुक्ति

Wed Apr 17 , 2019
अच्छी सेहत ही समाज में आपको प्रतिष्ठा दिलवाती है। यदि सेहत ठीक है तो आप हर तरह के कार्य को बखूबी निभा सकते हो। हर पुरूष चाहता है कि वह उन बीमारियों से दूर हो जो उसके वैवाहिक जीवन को प्रभावित करती हों। लेकिन दौड़भाग वाली जिंदगी में कुछ न […]
Loading...

Breaking News

Loading...