नहीं टिक पाते देर तक ?????

आप लम्बे वक्त तक नहीं कर पाते हो सेक्स

आप लम्बे वक्त तक नहीं कर पाते हो सेक्स आप लम्बे वक्त तक नहीं कर पाते हो सेक्स आप लम्बे वक्त तक नहीं कर पाते हो सेक्स
आप लम्बे वक्त तक नहीं कर पाते हो सेक्स तो

मैं सहवास के दौरान एक मिनट से ज्यादा नहीं टिक पाता जबकि मेरे दोस्त का कहना है कि वह प्रवेश के बाद 30 से 45 मिनट तक सहवास कर लेता है। उसकी शादी हुए 20 साल हो चुके हैं और दो बच्चे भी हैं। क्या ऐसा संभव है? यदि हां, तो मेरे जैसे लोग अपना समय कैसे बढ़ा सकते हैं? क्या आपके द्वारा बताई गई दवाओं से ऐसा हो सकता है? हां, तो दवाई से ऐवरेज कितना समय बढ़ाया जा सकता है? क्या बिना दवा के भी टाइम बढ़ाने के तरीके हैं? वैसे, आम आदमी का एवरेज टाइम कितना होना चाहिए?

धातु गिरना, मर्दाना ताकत और तनाव की कमी की आयुर्वेदिक ओषधि से निर्मित वीर्य शक्ति किट घर बैठे ऑर्डर करने के लिए दिए गए लिंक पर क्लिक करें

https://waapp.me/wa/n58RqQpB

प्रवेश के बाद सहवास का समय आधा घंटा नहीं बल्कि कई लोगों का तो एक घंटे तक भी चला जाता है। पर, ऐसी स्थिति को विलंबित स्खलन की समस्या कहते हैं। आपके मामले में आप जरूरत से ज्यादा जल्दी चरमसीमा पर पहुंच जाते हैं। अगर आप इस अवधि को लंबा करना चाहते हो तो वह भी मुमकिन है। अगर तुंरत फायदा चाहें हो तो बाजार में इसके लिए एलोपैथिक दवाएं मिलती हैं, जैसे डिपॉक्सिटिन-60 मिलीग्राम। सहवास से एक घंटे पहले इसकी एक गोली एक गिलास पानी से लें। ज्यादातर लोगों में तो इसी से शीघ्र स्खलन में आराम आ जाता है और सहवास की अवधि बढ़ जाती है।

लेकिन बात तो ये है की

 

👉

👉 पुरुषों की SPERM COUNT KIT किट पाने के लिए लिंक पर क्लिक करें Ya दिए गए नंबर पर कॉल कीजिए

888-214-49-78

https://waapp.me/wa/7r6s1d8i

हकीकत में तो सहवास का समय इतना होना चाहिए कि आपके पार्टनर को पूरी संतुष्टि मिल जाए। अगर न मिले तो अन्य तरीकों से अपने पार्टनर को संतुष्ट कर देना चाहिए। ऋषि वात्स्यायन का कहना है कि यदि कोई अपने पार्टनर को सामान्य तरीके से सहवास का आनंद नहीं दे पाता या चरम सीमा तक नहीं पहुंचा पाता तो उसे चाहिए कि वह अपनी पत्नी को पाणिमंथन या हस्तमैथुन, औपरिष्टिकम या मुखमैथुन अथवा अपद्रव्य या कृत्रिम लिंग के प्रयोग से संतुष्ट कर देना चाहिए। जरूरी बात यह नहीं है कि सहवास कितना लंबा चलता है, बल्कि कितना आनंददायी या सुखदायी हो पाता है।

हकीकत में सहवास की क्रिया को संस्कृत में संभोग कहा गया है, जिसका मतलब है दोनों पार्टनर्स को समान आनंद की प्राप्ति होना। अगर डिपॉक्सिटिन की गोली कारगर नहीं होती तो उसकी जगह दूसरी गोलियां भी मिलती हैं। जैसे क्लोमीप्रोमिन की 10 से 25 मिलीग्राम की एक गोली दिन में सिर्फ एक बार सहवास से 8 घंटे पहले पानी से लेनी चाहिए। हालांकि इस गोली से कई लोगों नींद, नशा-सा और मुंह में सूखापन महसूस हो सकता है।

 

💪 वजन बढ़ाये और अच्छी बॉडी बनाये
👉 आयुर्वेदिक और गारंटेड प्रोडक्ट
🚚 ऑर्डर करने के लिए लिंक पर क्लिक करें या Whatsapp 888-214-49-78 या दिए गए लिंक पर क्लिक करें
https://waapp.me/wa/uM3QQNCa

 

अगर कोई चाहता है कि उसका पर्मानेंट इलाज हो जाए तो उसके लिए और उपाय भी हैं। मिसाल के तौर पर योग में वज्रोलि और अश्विनी मुद्रा। इन मुद्राओं को करने के दौरान जिन स्नायुओं का उपयोग होता है उनसे शीघ्र स्खलन पर कंट्रोल किया जा सकता है। लंबे समय तक इन्हें करते रहने से शीघ्र स्खलन में आराम आ जाता है। ये मुद्राएं चरमसीमा को विलंबित या देर से लाने या देर तक सहवास करने में मदद करती है। ट्यूबोकोकसीजियस नामक एक्सर्साइज भी अगर नियमित रूप से करें तो 8 से 12 हफ्तों में काफी फायदा दिखाई देने लगता है। इस विधि को डॉक्टरों या इंटरनेट से भी सीख सकते हैं।

इसके अलावा यूनानी पद्धति के अनुसार शीघ्र स्खलन वाले लोग अगर पेशाब करते वक्त रोक-रोककर पेशाब करने की आदत डालें तो उससे भी सहवास का समय बढ़ाया जा सकता है। उनका मानना है कि दिमाग यह नहीं समझता है कि पेशाब जा रहा है या सीमेन। दिमाग को तो यही लगता है कि कोई तरल पदार्थ ही निकल रहा है। इन मुद्राओं का अभ्यास करने से जैसे पेशाब करने में कंट्रोल आ जाता है वैसे ही वीर्य स्खलन में भी कंट्रोल आ जाएगा।

 

क्या आप सेक्स के दौरान जल्दी थक जाते हैं तो आज ही king cobra kit मंगवाने के लिए दिए गए लिंक पर क्लिक करें https://waapp.me/wa/jAzzz7nb

 

जहां तक सहवास के ऐवरेज टाइम की बात है तो उसे एक उदाहरण से समझ सकते हैं। जैसे नॉर्मल बॉडी टेम्प्रेचर 98.4 डिग्री कहा जाता है। पर, दस आदमियों का माप लो तो एग्जेक्ट इतना शायद एक ही में मिलेगा। तो जैसे टेम्प्रेचर का कोई ऐवरेज नहीं होता वैसे ही सहवास के समय की बात भी है। हां, यह समय इतना जरूर होना चाहिए कि आपके पार्टनर को संतुष्टि मिल जाए। अगर सहवास से संतुष्टि नहीं मिलती तो अन्य तरीकों से पार्टनर को संतुष्ट कर दें, क्योंकि महत्वपूर्ण बात संतुष्टि है न कि संभोग का लंबा वक्त। दवाई की के प्रयोग से तो आप उस लेवल पर आ जाते हैं जिस लेवल पर आप पहुंचना चाहते हैं। हालांकि वह लेवल भी तर्कसंगत लेवल होना चाहिए। आधा घंटा या एक घंटा तर्कसंगत या जरूरी नहीं माना जा सकता। अगर आपके पार्टनर को 5 मिनट में संतोष हो जाता है तो उतना वक्त ही काफी होता है।

अब मोटापे को कहें हमेशा के लिए अलविदा इस्तेमाल कीजिए आयुर्वेदिक जड़ी – बूटियों से निर्मित डॉ नुस्खे weight loss किट घर बैठे ऑर्डर करने के लिए दिए गए लिंक पर क्लिक करें

https://waapp.me/wa/c6EdgTDP

1. दिनचर्या में थोड़ा-सा व आसान परिवर्तन आपको स्वस्थ व दीर्घायु बना सकता है। बशर्ते आप कुछ चीजों को जीवनभर के लिए अपना लें और कुछ त्याज्य चीजों को हमेशा के लिए दूर कर दें। इसके लिए अपनाइए सरल-सा 20 सूत्री जीवन।

2. प्रतिदिन प्रातः सूर्योदय पूर्व (5 बजे) उठकर दो या तीन किमी घूमने जाएँ। सूर्य आराधना से दिन का आरंभ करें। इससे एक शक्ति जागृत होगी जो दिल-दिमाग को ताजगी देगी।
3. शरीर को हमेशा सीधा रखें यानी बैठें तो तनकर, चलें तो तनकर, खड़े रहें तो तनकर अर्थात शरीर हमेशा चुस्त रखें।
4. भोजन से ही स्वास्थ्य बनाने का प्रयास करें। इसका सबसे सही तरीका है, भोजन हमेशा खूब चबा-चबाकर आनंदपूर्वक करें ताकि पाचनक्रिया ठीक रहे, इससे कोई भी समस्या उत्पन्न ही नहीं होगी।

महिलाओं की वजन बढ़ाने और स्तन बढ़ाने की स्तन उपचार किट ऑर्डर करने के लिए दिए गए लिंक पर क्लिक करें https://waapp.me/wa/hLpadsnC

5. मोटापा आने का मुख्य कारण तैलीय व मीठे पदार्थ होते हैं। इससे चर्बी बढ़ती है, शरीर में आलस्य एवं सुस्ती आती है। इन पदार्थों का सेवन सीमित मात्रा में ही करें।
6. गरिष्ठ-भारी भोजन या हजम न होने वाले भोजन का त्याग करें। यदि ऐसा करना भी पड़े तो एक समय उपवास कर उसका संतुलन बनाएँ।
7. वाहन के प्रति मोह कम कर उसका प्रयोग कम करने की आदत डालें। जहाँ तक हो कम दूरी के लिए पैदल जाएँ। इससे मांसपेशियों का व्यायाम होगा, जिससे आप निरोगी रहकर आकर्षक बने रहेंगे, साथ ही पर्यावरण की रक्षा में भी सहायक होंगे।

 

8. भोजन में अधिक से अधिक मात्रा में फल-सब्जियों का प्रयोग करें। उनसे आवश्यक तैलीय तत्व प्राप्त करें, शरीर के लिए आवश्यक तेल की पूर्ति प्राकृतिक रूप के पदार्थों से ही प्राप्त करें।
9. दिमाग में सुस्ती नहीं आने दें, कार्य को तत्परता से करने की चाहत रखें।
10. घर के कार्यों को स्वयं करें- यह कार्य अनेक व्यायाम का फल देते हैं।

 

पुरुषों की SPERM COUNT KIT किट पाने के लिए लिंक पर क्लिक करें Ya दिए गए नंबर पर कॉल कीजिए 888-214-49-78

https://waapp.me/wa/7r6s1d8i

11. व्यस्तता एक वरदान है, यह दीर्घायु होने की मुफ्त दवा है, स्वयं को व्यस्त रखें।
12. कपड़े अपने व्यक्तित्व के अनुरूप पहनें। थोड़े चुस्त कपड़े पहनें, इससे फुर्ती बनी रहेगी।
13. जीवन चलने का नाम है, गतिशीलता ही जीवन है, यह सदा ही याद रखें।

क्या आप धातु, स्वप्न दोष, कमजोरी नपुंसकता se परेशान है तो दिए गए लिंक पर क्लिक करें ओर घर बैठे आयुर्वेदिक उपचार धातु पोष्टिक किट ऑर्डर करे

https://waapp.me/wa/CjXiM8qU

ankit1985

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

धनवान बनने के लिए आज से ही हनुमान जी को अर्पित करें ये 5 चीज़ें होगा लाभ ही लाभ

Tue Dec 3 , 2019
आप लम्बे वक्त तक नहीं कर पाते हो सेक्स आप लम्बे वक्त तक नहीं कर पाते हो सेक्स आप लम्बे वक्त तक नहीं कर पाते हो सेक्स आप लम्बे वक्त तक नहीं कर पाते हो सेक्स आप लम्बे वक्त तक नहीं कर पाते हो सेक्स तो मैं सहवास के दौरान […]
Loading...

Breaking News

Loading...