क्या आप जानते है >>ढीले स्तन होने के कारण आपको हो सकती है ये ?? जान-लेवा बीमारी

स्तन(ब्रेस्ट)स्तन कई आकार व माप के हो सकते हैं। निप्पल के आकार व रंग में भी  काफ़ी अंतर हो सकता है।अक्सर स्तनों का आकार व माप असमान हो सकता हैं। करीब 20 वर्ष की आयु के आसपास यह अन्तर कम होने लग सकता है।स्तन मुख्यतः दूध का उत्पादन करने वाली ग्रन्थियों से मिलकर बने होते हैं जो एक नली द्वारा निप्पल से जुड़े होते हैं। यह ग्रन्थियाँ चारों ओर से चर्बीदार ऊतकों से घिरी होती हैं।हर महीने हार्मोन स्तनों को गर्भावस्था के लिए तैयार करते हैं। इस कारण स्तन थोड़े बड़े और अधिक संवेदनशील हो जाते हैं और मासिक धर्म खत्म होने पर अपने स्वाभाविक आकार व माप पर वापस आ जाते हैं।

क्या आप ढीले स्तनो को टाइट करके अपना फ़िगर ओर भी अकर्षक बनाना चाहते हैं तो आज दिए गए लिंक पर क्लिक करें
स्तनों का मापकुछ लड़कियाँ अपने स्तनों के माप से असंतुष्ट हो सकती हैं। कई बार वे चाहती हैं की उनके स्तनों का आकार बड़ा, छोटा या फि़र और कड़ा हो।स्तनों के आकार व माप का उनकी संवेदनशीलता से कोई संबंध नहीं है – छोटे स्तन भी बड़े स्तनों जितने ही संवेदनशील हो सकते हैं। लड़कियों के स्तन – उनका आकार व माप – उनके गुणसूत्रों द्वारा निर्धारित होते हैं। आसपास की मांसपेशियों का भी स्तनों के आकार पर प्रभाव पड़ सकता है।लड़कियाँ यह अनुभव कर सकती हैं की उनके स्तनों का आकार उनके वज़न के बढ़ने या घटने के अनुसार बढ़ या घट सकता है। स्तनों का माप महीने के अलग अलग समय पर अलग हो सकता है और यह हार्मोन युक्त गर्भनिरोधक (कॉन्ट्रासेप्टिव) से भी प्रभावित हो सकता है।स्तनों के बारे में आम पूछे गये सवाल:क्या स्तनों के माप को बढ़ाया जा सकता है?इस बात का कोई प्रमाण नहीं है की व्यायाम से स्तनों के माप को बढ़ाया जा सकता है और इसका तो निश्चित ही कोई प्रमाण नहीं है की किसी भी स्प्रे या क्रीम से स्तनों का माप बढ़ाया जा सकता है। केवल प्लास्टिक सर्जरी या शल्य चिकित्सा द्वारा – कृत्रिम रुप से स्तनों का आकार बढ़ाने की संभावना हो सकती है
क्या आप बिस्तर पे जाते ही झड़ जाते है अपनी

काम + उत्तेजनाओं को बढाने के लिए दिए गए लिंक पर क्लिक करें घर बैठे ऑर्डर करे
क्या स्तनों पर बाल आना सामान्य है?हाँ, लगभग सभी लड़कियों को स्तनों के आस पास या दोनों स्तनों के बीच या निप्पल पर, बहुत हल्के या हल्के घुँघराले या एक दो बाल हो सकते हैं।घटती सेक्स छमता जिम्मेदार कौन कोई और नहीं बल्कि हम ही है==========================================प्रकृति सबसे बड़ी सर्जक है इसकी सबसे सुन्दर रचना है मनुष्य एक से एक अदितीय अंग है हमारे पास और सबसे अनमोल है हमारे पास वो है सेक्स , नर हो नारी हो या फिर पशु ही क्यों न हो सबको जरुरत है इसकी इसके बिना हम अधूरे है ,जिस तरह हम भोजन करते है पेट भरने के लिए ,उसी तरह हमे भी सेक्स की इच्छा होती है और न ही इसका कोई एस्पिअरी डेट होता है .★विधिः रात में बादाम, पिस्ता, छुहारा और चारों मगज 1 कप पानी में डालकर रख दें। प्रातःकाल बादाम का छिलका हटाकर उन्हें दो बार बूँद पानी के साथ पत्थर पर घिस लें और उस लेप को कटोरी में ले लें। फिर पिस्ता, इलायची के दाने व छुहारे को बारीक काट-पीसकर उसमें मिला लें। चारों मगज भी उसमें ऐसे ही डाल लें। अब इन सबको अच्छी तरह मिलाकर खूब चबा-चबाकर खा जायें। उसके बाद 3 ग्राम शंखावली का महीन चूर्ण मक्खन में मिलाकर चाट लें और एक गिलास गुनगुना मीठा दूध 1-1 घूँट करके पी लें। अंत में, थोड़े सौंफ मुँह में डालकर धीरे-धीरे 15-20 मिनट तक चबाते रहें और उनका रस चूसते रहें। चूसने के बाद उन्हें निगल जायें।★लाभः यह प्रयोग दिमागी ताकत, तरावट और स्मरणशक्ति बढ़ाने के लिए बेजोड़ है। साथ ही साथ यह शरीर में शक्ति व स्फूर्ति पैदा करता है। लगातार 40 दिन तक प्रतिदिन सुबह नित्य कर्मों से निवृत्त होकर खाली पेट इसका सेवन करके आप चमत्कारिक लाभ देख
सकते हैं।💪 वजन बढ़ाये और अच्छी बॉडी बनाये 👉 आयुर्वेदिक और गारंटेड प्रोडक्ट 🚚 ऑर्डर करने के लिए लिंक पर क्लिक करें या Whatsapp 888-214-49-78 या दिए गए लिंक पर क्लिक करें
लेकिन दोस्तों क्या हम अपनी यौन लाइफ का भरपूर आनंद ले पा रहे है शायद नहीं .आज 40 की age तक पहुचते ही हमारी यौन छमता जवाब देने लगती है इसका जिम्मेदार कोई और नहीं बल्कि हम है ,कुछ समय पूर्व आपने सुना होगा की एक 72 वर्षीय संत इस उम्र में भी सेक्स का भरपूर आनंद ले रहे थे और दोस्तों उनका जब impotency test हुआ तो उसमे भी वो पास हो गए .खानपान पर ध्यान न देना================हमारी दिनचर्या इतनी अनियमित हो गई , मानवरूपी शरीर मशीन बन गया है , समय पर भोजन नहीं , फ़ास्ट फ़ूड पर हम ज्यादा निर्भर हो गए है , और जब हम विटामिन्स वाला खाना खाने की बात करते है तो हमारे मुह से निकल पड़ता है बाप रे कितनी महंगाई बड गई है , लेकिन जब बात हमारे नशे की हो तो तब हमें महंगाई नहीं दिखाई देती . हम दिन में कितना पान मसाला ,सिगरेट,तम्बाकू,शराब आदि,और रही बात शराब की तो शाम से ही हमारी तलब जोर मारने लगती है .इन सब पर आप कितना खर्चा करते है उसका कभी हिसाब लगाया आपने शायद नहीं , इन फालतू नशे पे आप जितना खर्चा करते है उससे भी कम पैसे में आप अपने और अपने परिवार का ख्याल रख सकते है .सही खानपान पे ध्यान दे===============नशे से पैसा बचाकर आप रोजाना फल ,ड्राई फ्रूट खुद भी खाए और परिवार को भी खिलाएअगर आप नशा न करे तो बहुत सारी बीमारी भी आपके पास आने से भी डरेगी और आपकी सेक्स लाइफ भी काफी अच्छी होगी , एक इन्सान किसी भी उम्र में सेक्स का भरपूर आनंद ले सकता है अगर आपकी सेक्स छमता में कमी आ रही है या फिर आ गई है, पतले वीर्य, संभोग में कमी को दूर करने की अधिक देर तक टिकने की
डॉ. नुस्खे हॉर्स पावर किट ( Dr. Nuskhe horse power kit पाने के लिए लिंक पर क्लिक करें
https://waapp.me/wa/fRZ5ZPq4या Whatsapp 888-214-49-78 करें
यदि केवल एक दो बाल हों, तो इन्हें प्लकर या चिमटी से निकाल सकती हैं। चिमटी को संक्रमणहीन करने के लिए उसे स्पिरिट या किसी कीटाणुनाशक (डिसइंफेक्टेंट) से साफ़ कर के ही उसे इस्तेमाल करें। त्वचा को भी संक्रमण से बचाने के लिए स्पिरिट से पोंछ सकती हैं  और फिर त्वचा को नर्म या मुलायम रखने के लिए कोई लोशन लगा सकती हैं। शेव करने से त्वचा के नीचे बाल (इन ग्रोन बाल) बढ़ना शुरु हो सकते हैं।अश्वगंधा के फायदे1. कैंसर जैसी खतरनाक बीमारी में बहुत असरकारी है अश्वगंधा का इस्तेमाल. कई रिसर्च में यह बताया गया है कि अश्वगंधा कैंसर सेल्स को बढ़ने से रोकता है और कैंसर के नए सेल्स नहीं बनने देता. यह शरीर में रिएक्टिव ऑक्सीजन स्पीशीज का निर्माण करता है. जो कैंसर सेल्स को खत्म करने और कीमोथेरपी से होने वाले साइड इफेक्ट्स से भी बचाने का काम करता है.
घर बैठे डॉ. नुस्खे अश्वगंधा ऑर्डर करने के लिए लिंक पर क्लिक करें मुल्य 798rs
यदि किसी को ज्यादा बाल हों तो वे वैक्सिंग भी कर सकती हैं या बाल साफ करने वाली क्रीम का उपयोग भी कर सकती हैं। वैक्स करने से त्वचा जल सकती और यदि आप त्वचा को अच्छी तरह रगड़ कर साफ़ न करें तो त्वचा के नीचे बाल (इन ग्रोन बाल) बढ़ना शुरु हो सकते हैं। ’वैसे तो बाल साफ़ करने की क्रीम से भी जलन हो सकती है, इसलिए स्तनों जैसी संवेदनशील जगह पर इसका इस्तेमाल करने से पहले, एक छोटे जगह पर इस क्रीम का असर जाँच (टेस्ट) कर लेना चाहिए।थकान को दूर करता है – अगर आप अधिक थक गए है तो थोड़ी देर में गर्म दूध और गुड का सेवन करें।इससे आपको तुंरत आराम मिलेगा।इसके अलावा रोजाना 3 चम्मच गुड़ लें।इससे आपको कभी थकान नहीं होगी।
शुध्द shilajit घर बैठे ऑर्डर करने के लिए लिंक पर क्लिक करें
इस पोस्ट को इतना शेयर

ankit1985

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

हल्दी के 10 फायदे, शुगर, मोटापा, अस्थमा पुरुषों और महिलाओं के रोगों का सफल इलाज

Wed Nov 27 , 2019
स्तन(ब्रेस्ट)स्तन कई आकार व माप के हो सकते हैं। निप्पल के आकार व रंग में भी  काफ़ी अंतर हो सकता है।अक्सर स्तनों का आकार व माप असमान हो सकता हैं। करीब 20 वर्ष की आयु के आसपास यह अन्तर कम होने लग सकता है।स्तन मुख्यतः दूध का उत्पादन करने वाली ग्रन्थियों […]
Loading...
Loading...