क्या है कोरोना वायरस, क्यूँ है यह इतना जानलेवा जानें लक्षण, बचाव

Coronavirus : क्या है कोरोना वायरस, जानें लक्षण, बचाव समेत सभी जरूरी बातें

चीन में फैले घातक कोरोना वायरस ने अब तक 25 लोगों की जान ले ली है और करीब 800 से अधिक लोग इसकी चपेट में हैं। कोरोना वायरस की भयावहता को देखते हुए विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने चीन में इमरजेंसी की घोषणा कर दी है, हालांकि अभी अंतरराष्ट्रीय सार्वजनिक स्वास्थ्य आपात स्थिति की घोषणा नहीं की है। यहां जानें कोरोना वायरस क्या है , कैसे फैलता है और इसके संक्रमण के क्या लक्षण हैं-

क्या है कोरोना वायरस
कोरोना असल में वायरसों का एक बड़ा समूह है जो जानवरों में आम है। अमेरिका के सेंटर फॉर डिसीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (सीडीएस) के अनुसार, कोरोना वायरस जानवरों से मनुष्यों तक पहुंच जाता है। नया चीनी कोरोनो वायरस, सार्स वायरस की तरह है। इसके संक्रमण से बुखार, जुकाम, सांस लेने में तकलीफ, नाक बहना और गले में खराश जैसी समस्याएं हो जाती हैं। यह न्यूमोनिया का कारण भी बन सकता है। इसकी स्थिति मिडल ईस्ट रेस्पाइरेट्री सिंड्रोम (एमईआरएस) और सेवल एक्युट रेस्पाइरेट्री सिंड्रोम (सार्स) से काफी मिलती जुलती है।
हांगकांग विश्वविद्यालय में स्कूल ऑफ पब्लिक हेल्थ के वायरोलॉजिस्ट लियो पून, जिन्होंने पहले इस वायरस को डिकोड किया था, उन्हें लगता है कि यह संभवतः एक जानवर में शुरू हुआ और मनुष्यों में फैल गया।

घर बैठे ashwgandha churn ऑर्डर करने के लिए लिंक पर क्लिक करे https://waapp.me/wa/cDzEx7JC

कैसे फैलता है? 
WHO के मुताबिक कोरोना वायरस ( CoV ) एक जूनोटिक है। इसका मतलब है कि यह 2019-nCoV के जरिए जानवरों से मानव में फैला है। माना जा रहा है कि 2019-nCoV सीफूड खाने से फैला था। लेकिन अब कोरोना वायरस मानव से मानव में फैल रहा है। यह कोरोना वायरस से संक्रमित किसी व्यक्ति के संपर्क में आने से फैल सकता है। खांसी, छींक या हाथ मिलाना जोखिम का कारण बन सकता है। किसी संक्रमित व्यक्ति के छूने और फिर अपने मुंह, नाक या आंखों को छूने से भी वायरस का संक्रमण हो सकता है।

सांपों या चमगादड़ों से इंसानों तक फैल रहा है कोरोना वायरस!

कोरोना वायरस के असर के लक्षण
इस वायरस से मरने वालों की औसत उम्र 73 साल है । मृतकों में सबसे उम्रदराज शख्स 89 साल का था जबकि सबसे कम उम्र के लिहाज से 48 साल के व्यक्ति की मौत हुयी।
कोरोना वायरस के लक्षणों में नाक बहना, खांसी, गले में खराश, कभी-कभी सिरदर्द और बुखार शामिल है, जो कुछ दिनों तक रह सकता है। कमजोर प्रतिरोधक क्षमता वाले लोगों के लिए यह घातक है। बुजुर्ग और बच्चे इसके आसान शिकार हैं। निमोनिया, फेफड़ों में सूजन, छींक आना, अस्थमा का बिगड़ना भी इसके लक्षण हैं।

क्या है इसका इलाज
इसका अभी तक कोई इलाज नहीं है। न तो कोरोना वायरस ( CoV ) की कोई वैक्सीन बनी है और न ही 2019-nCoV की। इससे बचने का यही तरीका है कि ऐहतियात बरतें। किसी बीमार, झुकाम, निमोनिया से ग्रसित व्यक्ति के संपर्क में आने से बचें। मास्क पहनें। अपनी आंखों, नाक और मुंह को न छुएं। हाथों को बार बार अच्छे से साबुन से धोएं।

घर बैठे अपने ढीले breast को shape में लाए https://waapp.me/wa/RBXg2iSt

बचने के उपाय
विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने अथवा उसे कम करने के लिए कुछ एहतियात बरतने को कहा है, जिसे संयुक्त राष्ट्र ने भी ट्वीट किया है। ट्वीट में कोरोना वायरस के संक्रमण के खतरे को कम करने के उपाय बताए गए हैं।

अपने आप को कोरोना वायरस के संक्रमण से सुरक्षित रखने के लिए:

v @WHO

Twitter पर छबि देखें
78 लोग इस बारे में बात कर रहे हैं

1. अपने हाथ साबुन और पानी या अल्कोहल युक्त हैंड रब से साफ करें।
2. खांसते या छींकते वक्त अपनी नाक और मुंह को टिश्यू या मुड़ी हुई कोहनी से ढकें।
3. जिन्हें सर्दी या फ्लू जैसे लक्षण हों, उनके साथ करीबी संपर्क बनाने से बचें।
4. मीट और अंडों को अच्छे से पकाएं।
5. जंगल और खेतों में रहने वाले जानवरों के साथ असुरक्षित संपर्क न बनाएं।

चीन में भारतीयों के लिए हेल्पलाइन
चीन में भारतीय दूतावास ने वहां रह रहे भारतीयों के लिए इस संबंध में हेल्पलाइन शुरू की है-
+8618612083629 और +8618612083617

भारत के लिहाज से भी चिंता की वजह है क्योंकि करीब 700 भारतीय छात्र वुहान और आसपास के इलाके में रहते हैं। इन छात्रों में ज्यादातर चीनी विश्वविद्यालयों में चिकित्सा की पढ़ाई करते हैं ।

कितना खतरनाक है ये
– चीन के 20 प्रांतीय स्तर के क्षेत्रों में कुल 1072 संदिग्ध मामले सामने आए हैं। चीन ने कोरोनावायरस के प्रसार को रोकने के लिए अभूतपूर्व कदम उठाते हुए बृहस्पतिवार को वुहान सहित पांच शहरों को सील कर दिया था।

– चीनी नववर्ष के पहले सड़कों पर भीड़भाड़ बढ़ने के मद्देनजर गाड़ियों, ट्रेनों और विमानों समेत आवागमन के विभिन्न माध्यमों को रोक दिया गया है। इन शहरों में तकरीबन दो करोड़ लोग रहते हैं।

– अमेरीका में भी वायरस के संक्रमण का एक मामला सामने आया है। स्वास्थ्य अधिकारियों का कहना है कि यह शख्स चीन के वुहान से अमरीका आया है।

– सऊदी अरब में भारतीय नर्स कोरोना वायरस से पीड़ित
भारत की एक नर्स कोरोनावायरस से पीड़ित पाई गई है और उसका इलाज सऊदी अरब में चल रहा है। यह वायरस चीन के शहर वुहान से अलग है। पीड़ित नर्स और उसकी करीब 100 सहकर्मियों की जांच की गई थी। इनमें से ज्यादातर नर्स केरल की हैं। भारतीय दूतावास ने यह स्पष्ट किया है कि वह नर्स कोरोनावायरस-सीओवी से पीड़ित हैं। वह 2019-एनसीवो (वुहान) से पीड़ित नहीं हैं। कोरोनावायरस-सीओवी के पहले मामले की पहचान सऊदी अरब में 2012 में हुई थी जबकि वुहान का कोरोना वायरस नोवेल वन यानी यह एकदम नया है।

डॉ नुस्खे हॉर्स पॉवर किट ऑर्डर करने के लिए https://waapp.me/wa/asqtfUoC क्लिक करें
या call 9821611189

ankit1985

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

वीर्य गाढ़ा करे, सम्भोग करने कि क्षमता बढ़ाने की आयुर्वेदिक औषधि

Fri Jan 24 , 2020
Coronavirus : क्या है कोरोना वायरस, जानें लक्षण, बचाव समेत सभी जरूरी बातें चीन में फैले घातक कोरोना वायरस ने अब तक 25 लोगों की जान ले ली है और करीब 800 से अधिक लोग इसकी चपेट में हैं। कोरोना वायरस की भयावहता को देखते हुए विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) […]
Loading...
Loading...