आदतें जो खराब कर सकती हैं, आपकी किडनी

पानी हमारे शरीर की जरुरत है। पानी कम पीने से किडनी पर बहुत प्रभाव पड़ता है। किडनी खून साफ करती है और खराब चीजो शरीर से अलग करती है जिसमें पानी की बड़ी भूमिका है। अगर आप पानी कम पिएंगे तो टॉकिन्स छनने के बजाय इकट्ठा होने शुरू हो जाएंगे।

  • अधिक नमक लेने से शरीर में सोडियम बढ़ता है जिससे ब्लड प्रेशर प्रभावित होता है। इससे किडनी पर बल पड़ता है। आप दिन में 5 ग्राम से अधिक नमक का सेवन न करें।
  • युरीन या पेशाब के प्रेशर को रोकना भी किडनी से संबंधित समस्याओं को बढ़ा देता है। इस गलत आदत से किडनी में पत्थरी या किडनी फेल होने जैसी दिक्कत भी हो जाती है।

www.ayurvedastreet.com

  • पोषक तत्वों की कमी से भी किडनी प्रभावित होती है। विटामिन बी- 6 और मैग्नीशियम से भरपूर डाइट लेनी चहिये जो किडनी में पत्थरी की संभावना कम कर सकती है।
  • ज्यादा मिठाई खाना भी नुकशानदायक होता है। अधिक मीठी डाइट के सेवन से युरीन से प्रोटीन निकलने लगता है। ऐसी में समझ लें कि आप किडनी से जुड़ी किसी समस्या से जूझ रहे हैं।

  • बहुत अधिक मांसाहार के सेवन से भी किडनी को दिक्कत हो सकती है। मांसाहार के सेवन से किडनी पर मेटॉबॉलिज्म का भार बढ़ता है जिससे इनके खराब होने का रिस्क भी बढ़ सकता है।

  • आवश्यकता से कम नींद लेने से भी किडनी से जुड़ी समस्याएं हो सकती हैं। नींद के दौरान किडनी की कोशिकाओं में पहुंचने वाली क्षति की भरपाई होती है। नींद न लेने से मेटाबॉलिज्म भी प्रभावित होता है और किडनी फिट नहीं रहती।
  • अधिक कैफीन के सेवन से भी ब्लड प्रेशर प्रभावित होता है। इससे किडनी पर स्ट्रेस बढ़ता है।

  • बात-बात पर पेनकिलर खाने से ‌भी किडनी पर गलत असर पड़ता है। बहुत सी पेनकिलर का साइड इफेक्ट किडनी व लिवर से जुड़े रोगों के रूप में सामने आता है।
  • एल्कोहल का अधिक सेवन करने से किडनी को नुकसान पहुंचता है। इसका अधिक सेवन किडनी का तनाव बढ़ाता है जिससे किडनी फेल्यूर की आशंका बढ़ जाती है।

 

ankit1985

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

फ्रोजेन शोल्डर की पहचान और उपचार आयुर्वेद से

Fri Apr 19 , 2019
पानी हमारे शरीर की जरुरत है। पानी कम पीने से किडनी पर बहुत प्रभाव पड़ता है। किडनी खून साफ करती है और खराब चीजो शरीर से अलग करती है जिसमें पानी की बड़ी भूमिका है। अगर आप पानी कम पिएंगे तो टॉकिन्स छनने के बजाय इकट्ठा होने शुरू हो जाएंगे। […]
Loading...
Loading...