Loading...

प्रदूषण और सही डाइट ना लेने का प्रभाव सेहत के साथ-साथ बालों पर भी पड़ता है. कम उम्र में ही बाल सफेद होने के साथ झड़ने भी लगते हैं. लेकिन इन आयुर्वेदिक नुस्खों को अपनाकर आप बालों की समस्याओं से छुटकारा पा सकते हैं.

महिला हो या पुरुष बाल सभी के लिए बहुत महत्वपूर्ण होते हैं. बाल हमें खूबसूरत दिखाने में सबसे अहम भूमिका निभाते हैं. यही कारण है कि सभी लोगों को अपने बालों से बहुत प्यार होता है. लेकिन प्रदूषण और समय की कमी के कारण ध्यान न देने की वजह से लोगों के बाल रूखे-सूखे और बेजान होने के साथ कम उम्र में ही झड़ने लगते हैं. अपने बालों में फिर से जान भरने और उन्हें खूबसूरत बनाने के लिए कई लोग महंगे- महंगे हेयर प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल करते हैं. सैलून में महंगे-महंगे ट्रीटमेंट कराते हैं. लेकिन अब आप बिना पैसे खर्च किए ही अपने बालों की समस्याओं से छुटकारा पा सकते हैं. दरअसल, आयुर्वेद में बालों को स्वस्थ रखने के कई नुस्खे बताए गए हैं, जिन्हें फॉलो कर के आप बालों की समस्या से छुटकारा पा सकते हैं.

आयुर्वेद के इन 5 तरीकों से पाएं लंबे, घने और चमकदार बाल-

1. मेथी दाना- मेथी दाने में भरपूर मात्रा में फोलिक एसिड, विटामिन ए, विटामिन के और विटामिन सी पाया जाता है. इसमें प्रोटीनऔर निकोटीन एसिड भी पाया जाता है, जिससे झड़ते बालों की समस्या दूर हो जाती है. स्कैल्प हेल्दी रहती है और बाल डैमेज नहीं होते हैं. इसके लिए आप अपनी डाइट में भी मेथी दाना शामिल कर सकते हैं. रात में 2 चम्मच मेथी दाने को पानी में भिगो दें. अगली सुबह वो पानी पी लें. बचे हुए मेथी दाने को पीसकर पेस्ट बना लें. इस पेस्ट को जड़ों में लगाकर 20 मिनट बाद बाल धोलें. बाल जल्दी घने, लंबे और मजबूत बनेंगे.

2. भृंगराज तेल- बालों को सेहतमंद बनाने के लिए भृंगराज तेल सबसे पुराना और फायदेमंद नुस्खा है. भृंगराज को हर्ब्स का राजा भी कहा जाता है. भृंगराज में कई एंटीऑक्सीडेंट्स पाए जाते हैं, जिससे बाल जल्दी घने और लंबे होते हैं.

3. आंवला- डाइट में विटामिन सी की कमी के कारण भी बाल झड़ने लगते हैं और बालों में डैंड्रफ की समस्या होने लगती है. लेकिन आवंले के सेवन और बालों में आवंला के तेल से मालिश करने से बालों की सभी समस्याएं दूर हो जाती हैं. साथ ही बाल लंबे समय तक काले रहते हैं.

4. दही- दही में कूलिंग प्रॉपर्टीज होने के साथ प्रोटीन भी पाया जाता है. प्रोटीन स्कैल्प की हेल्थ और नए फोलिसल्स की ग्रोथ के लिए बहुत महत्वपूर्ण होता है. अपने बालों पर दही से मसाज करें और 15 मिनट तक ऐसे ही छोड़ दें. इसके बाद शैंपू से सिर धो लें. बालों पर दही लगाने से बाल मजबूत होने के साथ कोमल और मुलायम भी बनते हैं.

5. आयुर्वेद के मुताबिक, झड़ते बालों की समस्या को दूर करने के लिए छाछ, दालचीनी, तरबूज, अंगूर आदि चीजों का सेवन करना चाहिए. इनके सेवन शरीर को जरूरी न्यूट्रिएंट्स मिलते हैं, जो बालों को हेल्दी बनाने के लिए जरूरी होते हैं.

 

आपके खान-पान और जीवन शैली का पूरा प्रभाव आपके शरीर के साथ बालों पर भी पड़ता है। संतुलित और पौष्टिक आहार आपके बालों के फॉलिकल को सुदृढ़ता प्रदान करने में बहुत मदद करते हैं। अगर आप स्वस्थ जीवन शैली जीते हैं तो आपके बाल भी काले और घने होंगे।

पौष्टिक आहार न सिर्फ आपके शरीर और त्वचा को स्वस्थ रखने में मदद करता है बल्कि बालों के क्वालिटी को सुधारने में भी मदद करता है। आपके खान-पान और जीवन शैली का पूरा प्रभाव आपके शरीर के साथ बालों पर भी पड़ता है। संतुलित और पौष्टिक आहार आपके बालों के फॉलिकल को सुदृढ़ता प्रदान करने में बहुत मदद करते हैं। अगर आप स्वस्थ जीवन शैली जीते हैं तो आपके बाल भी काले और घने होंगे। स्वस्थ जीवनशैली जीने के लिए सबसे पहले संतुलित आहार का सेवन करना सबसे ज्यादा ज़रूरी होता है। संतुलित आहार में कुछ ऐसे खाद्द पदार्थ हैं जो बालों के लिए बहुत लाभाकारी होते हैं जो न सिर्फ आपके बालों को स्वस्थ रखेंगे बल्कि उन्हें सुंदर और काले घने बनाने में भी मदद करेंगे।

 

क्या आप झड़ते बालो से परेशान है तो आयुर्वेदिक मेडिसन आर्डर करने के लिए नीचे दिए लिंक पर क्लिक करे या Call/Whatsapp 7428858589 करे

http://wassmee.us/w/?c=7dcb

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...
Loading...