आयुर्वेद से जाने कैसे और क्यों बढ़ता है मोटापा बढ़ते ही और भी कई बीमारियां हो जाती है क्यों

आज के टाइम में लोग डिब्बा बंद खाने  पर निर्भर हो गए हैं। फास्ट फूड और जंक फूड युवाओं का पहली पसंद है, लेकिन इन सबमें नमक की मात्रा अधिक होने से ये आपके स्वास्थ्य को नुकसान पहुंचाते हैं। नमक में सोडियम की मात्रा अधिक पाई जाती है। सोडियम नमक में पाया जाने वाला एक मुख्य कंपाउंड है।  इसलिए इसका सेवन एक सीमित मात्रा मे करना चाहिए। इसके अधिक सेवन से लोगों के कई स्वास्थ संबंधित तकलीफें हो जाती हैं।

जब हम जंक फूड का सेवन अधिक मात्रा में करते हैं तो नमक के साथ अधिक कैलोरी भी लेते हैं। लेकिन आज के समय में शरीरिक श्रम न के बराबर होता है।  जिसकी वजह से शरीर अधिक कैलोरी को बर्न नहीं कर पाता है और मोटापे  की समस्या बढ़ती है। आज के समय में युवा और बच्चों में तेजी से मोटापे की समस्या बढ़ रही है। मोटापा होने से शरीर में कई तरह की बिमारियां पनपने लगती हैं। सोडियम के ज्यादा सेवन से हाईब्लड प्रेशर की समस्या हो जाती है।

ज्यादा नमक के सेवन से किडनी से संबंधित परेशानियां हो जाती हैं। हृदय और कोशिकाओं के काम करने के लिए सोडियम लेना आवश्यक है लेकिन इसकी अधिक मात्रा शरीर को नुकसान पहुंचाती है। जिससे शरीर के ऊतकों में सूजन आ जाती है। इसलिए एक दिन में सीमित मात्रा में ही नमक खाना चाहिए।

एक दिन में शरीर के लिए कितनी सोडियम की आवश्यकता होती है?

सोडियम की ज्यादा मात्रा लेने से शरीर में वाटर रिटेंशन की समस्या बढ़ती है जिसकी वजह से बार-बार प्यास लगती है। एक दिन में एक व्यक्ति को 2300 mg से कम सोडियम लेना चाहिए। जिन लोगों के हाई ब्लड प्रेशर की समस्या है उन्हें सोडियम की मात्रा और भी कम लेनी चाहिए।

  • चर्म रोगों को करे जड़ से समाप्त करने के लिए अभी आर्डर करे गिलोय किट दिए हुए लिंक पर क्लिक करे या Whatsapp 7455-896-433  करे 448 Rs

    https://chatwith.io/s/5f60605f4a0fe

    बिल्व या बेल का वृक्ष औषधीय गुणों से भरपूर होता है। इसका फल बहुत स्वादिष्ट होने के साथ के लिए भी बहुत फायदेमंद है। बेल का शर्बत पेट की गर्मी को शांत करता है। इसलिए गर्मी के दिनों में लगो बेल का शर्बत बना कर पीते हैं। गर्मियों में चलने वाली गर्म हवा (लू) लगने पर बेल का शर्बत बहुत फायदा पहुंचाता है। पेट से जुड़ी अन्य तकलीफों में भी बेल का शर्बत लाभकारी है।

    वज़न घटाओ रहो फिट डाइटिंग😇 के बिना 50 दिनों में
    3 से 5 किलो वजन कम💃 करें प्रेग्नेंसी के पोस्ट फैट और टमी को दूर करें👇✍️
    डॉ नुस्खे🌿 फैट लॉस किट के साथ
    ऑर्डर🤳🏾 करने के लिए क्लिक👇 करें https://waapp.me/wa/kR7gTYsa

  • *अब आ गया है दिमाग के लिए*👇
    *#BrainPrash* *ब्रेन प्राश*👇
    *ताकत का महा फार्मूला* नींद नहीं आने की समस्या का अचूक समाधान 👇
    *बादाम, अखरोट, केसर, कद्दू के बीज, ब्राह्मी, नारियल तेल से युक्त*
    *घर बैठे ऑर्डर करने के लिए क्लिक* करें *मूल्य 777₹*👇
    https://waapp.me/wa/aP2KqYDP
  • पुदीना एक अच्छा माउथ फ्रेशनर है, इसे अपने घर में आसानी से उगा सकते हैं। इसकी पत्तियों को मुंह में चबाने से या पानी में उबालकर कुल्ला करने से मुंह की दुर्गंध से मुक्ति मिलती है। पुदीने का रस पेट संबंधित परेशानियों जैसे अपच आदि को दूर करता है।चर्म रोगों को करे जड़ से समाप्त करने के लिए अभी आर्डर करे गिलोय किट दिए हुए लिंक पर क्लिक करे या Whatsapp 7455-896-433  करे 448 Rs

    https://chatwith.io/s/5f60605f4a0fe

    बिल्व या बेल का वृक्ष औषधीय गुणों से भरपूर होता है। इसका फल बहुत स्वादिष्ट होने के साथ के लिए भी बहुत फायदेमंद है। बेल का शर्बत पेट की गर्मी को शांत करता है। इसलिए गर्मी के दिनों में लगो बेल का शर्बत बना कर पीते हैं। गर्मियों में चलने वाली गर्म हवा (लू) लगने पर बेल का शर्बत बहुत फायदा पहुंचाता है। पेट से जुड़ी अन्य तकलीफों में भी बेल का शर्बत लाभकारी है।

    वज़न घटाओ रहो फिट डाइटिंग😇 के बिना 50 दिनों में
    3 से 5 किलो वजन कम💃 करें प्रेग्नेंसी के पोस्ट फैट और टमी को दूर करें👇✍️
    डॉ नुस्खे🌿 फैट लॉस किट के साथ
    ऑर्डर🤳🏾 करने के लिए क्लिक👇 करें https://waapp.me/wa/kR7gTYsa

    नींबू, शहद और दालचीनी का मिश्रण लें -आधा चम्मच दालचीनी पाउडर, आधे नींबू का रस और थोड़ा सा शहद, तीनों को मिलाकर एक मिश्रण तैयार कर लें और रोजाना खाली पेट उसे पिएं। इससे मोटापा कम करने में मदद मिलेगी।

    कहा जाता है कि लहसुन में मोटापा-रोधी गुण होते हैं, जो प्राकृतिक तरीके से मोटापा कम करने में मदद करते हैं। आप हर रोज दिन में कम से कम दो बार एक या दो चम्मच घिसा हुआ लहसुन अपने खाने में डालकर लें या फिर आप लहसुन की कलियों को कच्चा भी खा सकते हैं। इससे काफी फायदा मिल सकता है।

    अस्थमा, दमा की आयुर्वेदिक उपचार दवा घर बैठे ऑर्डर करने के लिए लिंक पर क्लिक करें https://waapp.me/wa/jVReC3TQ

    हल्दी

    एक गिलास पानी में एक चौथाई चम्मच हल्दी मिलाकर उसका सेवन करें। करीबन पंद्रह दिनों तक इस उपचार को दिन में तीन बार करें। हल्दी एक बेहतरीन एंटीमाइक्रोबॉयल एजेंट है। साथ ही इसमें कर्क्युमिन भी पाया जाता है, जो अस्थमा से लड़ने में मददगार है।

    गंजे होने से बचने के लिए , लम्बे व घने बालो को पाने के लिए डॉ. नुस्खे केश आरोग्य तेल अभी पाने के दिए हुए लिंक पर क्लिक करे या कॉल करे Whatsapp 7455-896-433

    आयुर्वेद के अनुसार, खाना सही ढंग से पचने के लिए पाचन अग्नि का संतुलित रहना बहुत जरूरी है. आयुर्वेद में अग्नि मूल तत्व माना जाता है, इस पाचन अग्नि की तुलना ज्वलित अग्नि के साथ की जा सकती है. अगर अग्नि कम हो जाए, तो खाना पचने में समय लगता है, और अगर अग्नि ज्यादा हो जाए तो खाना समय से जल्दी पच जाता है.

    अपनी बिमारियों का आयुर्वेदिक समाधान और औषधि घर बैठे पाने के लिए पर जुड़ने के लिए क्लिक करें

    https://chatwith.io/s/5ef5b501990a6

    3 अर्क

    अर्क या अकव्वा/आंकड़ा बेहद ही उपयोगी औषधि है. आयुर्वेद में इसे जड़ी-बूटियों का पारद कहा जाता है.

    -इसकी जड़ की छाल ट्यूमर, सिस्ट, एब्सेस और सभी घावों में बेहद लाभ पहुंचाती है. इसे केवल एक चुटकी मात्रा में शहद के साथ लिया जाता है.

    – इसके पत्तों को गरम करके एड़ी पर बांधने से एडिय़ों का दर्द ठीक हो जाता है. इसके पत्तों से निकलने वाले दूध को चुभे हुए कांटे या अन्य कोई वस्तु जैसे कांच आदि पर लगाने से वह स्वतः बाहर निकल आती है.

    -इसके फूल की पंखुडिय़ों को निकालकर बचे हुए भाग को पान में रखकर चूसने से पीलिया और अन्य यकृत रोगों में बहुत आराम मिलता है.

    #धार्मिक#आयुर्वेदिक ज्ञानवर्धक जानकारियों के ग्रुप में शामिल होने के लिए click करें 🌹👇👇
    https://www.facebook.com/groups/2682785392048844/

    भूख बढ़ाने के लिए
    कब्ज मिटाने के लिए
    ताकत पाने के लिए
    आंखों की कमजोरी दूर करने में लाभदायक
    एसिडिटी से निजात पाने के लिए
    ऑर्डर करने के लिए click करें https://waapp.me/wa/4ihe2Q3r अंगूर से बनी
    Dr Nuskhe Grapes Jeely 555rs

    नींद नहीं आना, depression, घबराहट, बेचैनी, स्ट्रेस को दूर करने के लिए घर बैठे आयुर्वेदिक Dr Nuskhe Stress Relief kit मूल्य 698rs ऑर्डर करने के लिए click करें https://waapp.me/wa/ZoxQDeYH

    अश्वगंधा इस्तेमाल करने की विधि🌿फ्री आयुर्वेदिक हेल्थ चैनल ग्रुप से जुड़ने के लिए click करें
    👇
    https://www.facebook.com/groups/293393938690839/

    6 कचनार

    यह अक्सर बगीचों में लगा होता है. यह बेहद खूबसूरत पौधा बहुत काम का है. इसकी पत्तियों का आकार थायरॉइड से बहुत मिलता है इसलिए थायरॉइड की समस्या में यह बेहद उपयोगी औषधि है और थायरॉइड के लिए बनाई जाने वाली सभी दवाओं में इसे डाला जाता है. इसकी पत्ती और छाल विशेष उपयोगी होती है जिनका चूर्ण या काढ़ा प्रयोग किया जाता है. विभिन्न प्रकार के ट्यूमर्स में भी इसकी छाल और पत्तियों का चूर्ण लाभदायक है.

    7 भुई आंवला

    इसके फल आंवले के आकार के होते हैं और यह एक छोटा पौधा होता है इसलिए इसे भुई आंवला कहा जाता है. यह बगीचों में या सड़क के किनारे नमी वाली जगह पर पाया जाता है.

    -यकृत के लिए यह अमृत है. इसके पौधे को साफ करके ऐसे ही खाया जा सकता है.

    -इसे खाने के कुछ ही देर बाद व्यक्ति को भूख लगने लगती है, इसलिए भूख न लगने की समस्या में यह बहुत लाभदायक है.

    -पेशाब के इंफेक्शन में यह बहुत लाभदायक है.

    -वायरल इन्फेक्शन में यह एक बेजोड़ दवाई है.

    -इम्युनिटी बढ़ाने में यह बेहद मददगार है.

    (डॉ. नुस्खे )
    Delhi 7455896433

    डॉ नुस्खे अश्वगंधा रोज़ाना सुबह शाम 1-1 चमच्च दूध के साथ खाए और अपनी ताकत, immunity बढ़ाएं
    डॉ नुस्खे अश्वगंधा आर्डर करने के लिए लिंक पर क्लिक करें या WhatsApp 7455-896-433 और पाएं पूरे भारत में डिलीवरी https://waapp.me/wa/n3gnd1oc

    बिल्व या बेल शिवजी का प्रिय फल है और इसे हिंदू धर्मावलंबी पूजा में प्रयोग भी करते हैं. पैगंबर मुहम्मद ने इसे जन्नत का दरख्त कहकर इसकी उपयोगिता में चार चांद लगा दिए हैं.

    -बवासीर में इसकी पत्तियों का चूर्ण अमृत है.

    -इसके पके फल का शर्बत पाचनतंत्र के लिए लाभदायक औषधि है.

    -इसके फलों का मुरब्बा पेट के लिए बहुत फायदेमंद है.

    अमरूद में ग्लाइसेमिक इंडेक्स (GI)बहुत कम मात्रा में पाया जाता है. इसका मतलब ये है कि अमरूद आसानी से पच जाता है और शरीर में धीरे-धीरे अपने पोषक तत्व छोड़ता है. अमरूद ग्लूकोज के स्तर को बढ़ने से रोकता है.

    बड़ी हुई शुगर को आयुर्वेद से नियमित करने के लिए घर बैठे आर्डर करें डॉ नुस्खे शुगर नाशक किट

    https://chatwith.io/s/5f520a525c945

    गुप्त रोगों का उपचार फ्री आयुर्वेदिक हेल्थ चैनल ग्रुप से जुड़ने के लिए click करें
    👇
    https://www.facebook.com/groups/293393938690839/?ref=share

    *जोड़ों का दर्द, कमर दर्द, सायटिका का दर्द की आयुर्वेदिक उपचार किट Dr Nuskhe Vatari Power kit ऑर्डर करने के लिए क्लिक करें मूल्य 798*👇https://waapp.me/wa/tWC7RFvb

    10 अपामार्ग

    मेरी यह सबसे पसंदीदा दवाई है. मुझे इससे प्रेम है क्योंकि यह मानवता के लिए ईश्वर का अद्भुत वरदान है. इसके अनेक चिकित्सा उपयोग हैं.

    -बिच्छू के काट लेने पर दंश स्थान पर इसकी पत्तियों का रस लगाकर इसकी जड़ को घिसने से कुछ ही सेकंड में आराम मिल जाता है.

    -थायरॉइड की समस्या में इसकी पत्तियों का चूर्ण बहुत लाभ पहुंचाता है.

    -सैल्युलाइटिस (शोथ) में इसकी पत्तियों का लेप अद्भुत है.

    -अस्थमा में इसकी जड़ का चूर्ण सुबह खाली पेट लेने से शानदार परिणाम मिलते हैं.

    -जड़ का चूर्ण या काढ़ा पथरी के लिए सटीक दवाई है.

    -इसके बीज खूनी बवासीर-माहवारी में अधिक रक्त आने की परम औषधि है.

    -इसके बीज की दूध में बनाई खीर खाने से बहुत ज्यादा भूख लगने की समस्या दूर हो जाती है.

    -मोटापे में इसकी पत्तियों का चूर्ण बहुत लाभदायक है, विशेष रूप से महिलाओं में.

    वज़न घटाओ रहो फिट डाइटिंग😇 के बिना 50 दिनों में
    3 से 5 किलो वजन कम💃 करें प्रेग्नेंसी के पोस्ट फैट और टमी को दूर करें👇✍️
    डॉ नुस्खे🌿 फैट लॉस किट के साथ
    ऑर्डर🤳🏾 करने के लिए क्लिक👇 करें https://waapp.me/wa/kR7gTYsa

    डॉ नुस्खे अश्वगंधा रोज़ाना सुबह शाम 1-1 चमच्च दूध के साथ खाए और अपनी ताकत, immunity बढ़ाएं
    डॉ नुस्खे अश्वगंधा आर्डर करने के लिए लिंक पर क्लिक करें या WhatsApp 7455-896-433 और पाएं पूरे भारत में डिलीवरी https://waapp.me/wa/n3gnd1oc

    अपने फेसबुक पर फ्री आयुर्वेदिक हेल्थ टिप्स पाने के लिए आयुर्वेदिक चैनल ग्रुप से जुड़ने के लिए click करें
    👇
    https://www.facebook.com/groups/293393938690839/?ref=share

    पोस्ट को अधिक से अधिक शेयर करें

    #वजन घटाने व #मोटापा कम करने के #उपाय – फ्री आयुर्वेदिक हेल्थ चैनल ग्रुप से जुड़ने के लिए click करें
    👇 https://www.facebook.com/groups/719511888628238/

    अमरूद में कैलोरी कम पाई जाती है इसलिए इससे वजन भी कम होता है. आपको बता दें कि ब्लड शुगर बढ़ने का एक कारण जरूरत से ज्यादा वजन भी माना जाता है. यूनाइटेड स्टेट्स डिपार्टमेंट ऑफ एग्रीकल्चर के आंकड़ों के अनुसार, 100 ग्राम अमरूद में सिर्फ 68 कैलोरी और 8.92 ग्राम प्राकृतिक मिठास पाया जाता है.

    आयुर्वेदिक नुस्खा

 

ankit1985

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

आयुर्वेद से करे सिगरेट शराब को जड़ से ख़त्म

Wed Sep 16 , 2020
आज के टाइम में लोग डिब्बा बंद खाने  पर निर्भर हो गए हैं। फास्ट फूड और जंक फूड युवाओं का पहली पसंद है, लेकिन इन सबमें नमक की मात्रा अधिक होने से ये आपके स्वास्थ्य को नुकसान पहुंचाते हैं। नमक में सोडियम की मात्रा अधिक पाई जाती है। सोडियम नमक में […]
Loading...
Loading...