Loading...

आजकल बाल झड़ने की समस्या आम हो गई है। पुरुष हो या महिला हर कोई इससे परेशान है। साथ ही यह कहना भी गलत नहीं होगा कि इस समस्या के लिए हम ख़ुद जिम्मेदार हैं। इस अत्याधिक व्यस्त जीवन में समय बचाने के लिए हम प्राकृतिक संसाधनों की जगह, हम केमिकल युक्त उत्पादों का प्रयोग करते हैं, जिसका नकारात्मक प्रभाव हमारे बालों पर पड़ता है। बाल झड़ने के कारण हम गंजे तक हो जाते हैं।

बाल झड़ने के कारण – 

लगातार बाल झड़ने के कई कारण हो सकते हैं। उनमें से प्रमुख कारणों के बारे में यहां ज़िक्र कर रहे हैं, जो हमारी रोज़मर्रा की ज़िंदगी से जुड़े हैं, लेकिन हम उन्हें नजरअंदाज कर देते हैं।

1. तनाव

2. आनुवंशिक

3. हार्मोन में बदलाव

4. असंतुलित भोजन खाना

5. केमिकल युक्त उत्पादों का प्रयोग

6. डैंड्रफ

7. प्रोटीन की कमी

8. एनीमिया

 

 

बाल झड़ने से रोकने के घरेलू इलाज – 

Dr. Nuskhe Hair Fall Stop Kit

1. नारियल का दूध

सामग्री :

  • एक कप नारियल का दूध

बनाने की विधि :

  • हेयर डाय ब्रश की मदद से नारियल के दूध को अपने सिर पर लगाएं।
  • इसके बाद सिर को तौलिये से ढक दें और करीब 20 मिनट के लिए इसे छोड़ दें।
  • अब तौलिये को हटाकर बालों को ठंडे पानी से धो लें।
  • अंत में बालों को शैंपू से साफ कर लें।

कब करें इस्तेमाल :

इस प्रक्रिया को आप हफ़्ते में एक बार कर सकते हैं।

इस तरह है फ़ायदेमंद :

नारियल के दूध में प्रचुर मात्रा में विटामिन-ई और फैट होता है, जो बालों को माश्चराज़ कर उन्हें स्वस्थ बनाता है। साथ ही इस दूध में प्रोटीन, मिनरल्स व अन्य ज़रूरी तत्व होते हैं, जो बालों को बढ़ने में मदद करते हैं । नारियल के दूध को सिर पर लगाने से बालों के झड़ने की समस्या कम हो सकती है। इसी प्रकार, नारियल के तेल में भी ये सभी पोषक तत्व मौजूद होते हैं, जो बालों को जड़ से मज़बूत करते हैं।

2. नीम

सामग्री :

  • 10-12 नीम की सूखी पत्तियां
  • पानी से भरा बर्तन

बनाने की विधि :

  • नीम की पत्तियों को पानी में तब तक उबालें, जब तक कि पानी आधा न रह जाए।
  • इसके बाद पानी को ठंडा होने दें।
  • अब बालों को इस पानी से धो लें।

कब करें इस्तेमाल :

जब भी आप शैंपू करें इस मिश्रण से बालों को ज़रूर धोएं। अगर यह संभव हो, तो हफ़्ते में एक बार कर सकते हैं।

ऐसे है लाभकारी :

नीम में एंटी बैक्टीरियल गुण मौजूद है, जो डैंड्रफ से लड़ने में मदद करता है। इसके अलावा, यह सिर को साफ कर, बालों को उगने में मदद करता है। नीम, रक्त प्रवाह को संतुलित रखता है, जिस कारण बालों की जड़ों को पर्याप्त पोषण मिलता है और बाल मज़बूत होते हैं। यह सिर से जुओं को खत्म करने में भी कारगर है |

नोट : नीम मिश्रित पानी आंखों के लिए हानिकारक है। इसलिए, नीम के पानी से सिर धोते समय ध्यान रखें कि यह पानी आंखों में न जाए।

3. मेथी

सामग्री :

  • दो चम्मच मेथी के बीज
  • चार चम्मच दही
  • एक अंडा

या फिर

  • एक कप मेथी के बीज

बनाने की विधि :

प्रक्रिया नंबर-1

  • मेथी के बीज को रात भर के लिए पानी में भिगोकर रख दें
  • अगली सुबह, इन बीजों का पेस्ट बना लें।
  • अब इसमें थोड़ा पानी डालकर मिक्स कर लें।
  • बाद में इसमें दही और अंडे का सफ़ेद हिस्सा मिला लें।
  • अब इस पेस्ट को अपने बालों पर लगाएं।
  • करीब आधे घंटे बाद पानी से बालों को धो लें।

प्रक्रिया नंबर-2

  • मेथी के बीजों को पानी में डालकर रातभर के लिए छोड़ दें।
  • अगली सुबह, इन्हें पीसकर पेस्ट तैयार कर लें।
  • अब इस पेस्ट को बालों की जड़ों से लेकर ऊपरी छोर तक लगाएं और शॉवर कैप से सिर को ढक लें।
  • करीब 40 मिनट बाद ठंडे पानी से सिर को धो लें।

कब करें इस्तेमाल :

बाल झड़ने के इस घरेलू उपाय का आप महीने में एक या दो बार प्रयोग कर सकते हैं।

इस तरह है फ़ायदेमंद :

मेथी के बीज बालों को बढ़ने में मदद करते हैं और बालों के रोम छिद्रों का फिर से निर्माण करते हैं। इसके अलावा, ये बालों को मज़बूत व लंबा करते हैं और उनमें प्राकृतिक निखार लाते हैं |

4. अंडा

सामग्री :

  • दो अंडे

या फिर

  • एक अंडा
  • एक चम्मच जैतून का तेल

बनाने की विधि :

प्रक्रिया नंबर-1

  • दोनों को तोड़कर एक कटोरे में डाल लें।
  • अंडे में से योक यानी पीले हिस्से को अलग कर दें।
  • अब अंडों को तब तक मिक्स करें, जब तक कि ये गाड़े न हो जाएं।
  • हेयर डाय ब्रश की मदद से इस पेस्ट को अपने सिर व बालों पर लगाएं।
  • सिर को शॉवर कैप से ढक लें।
  • करीब 20 मिनट बाद बालों को ठंडे पानी से धो लें और फिर शैंपू कर लें।

प्रक्रिया नंबर-2

  • अंडे के सफ़ेद हिस्से को जैतून के तेल में मिला लें।
  • पेस्ट बनने तक इसे अच्छे से मिक्स करें और सिर व बालों पर लगाएं।
  • करीब 15-20 मिनट बाद बालों को ठंडे पानी से धो लें और बाद में शैंपू कर लें।

कब करें इस्तेमाल :

हफ़्ते में कम से कम दो बार इस्तेमाल करें।

ऐसे है लाभकारी :

अंडे में प्रोटीन, विटामिन-बी, बायोटिन और ज़रूरी पोषक तत्व मौजूद होते हैं, जो बालों के लिए फ़ायदेमंद हैं |

5. प्याज़ का रस

सामग्री :

  • एक प्याज़
  • एक कॉटन बॉल

या फिर

  • एक प्याज़
  • दो चम्मच शहद
  • थोड़ा-सा गुलाब जल

बनाने की विधि :

प्रक्रिया नंबर-1

  • प्याज़ को पीसकर उसका रस निकाल लें।
  • अब इसमें रूई को डुबाकर, रस को बालों की जड़ों से लेकर ऊपरी छोर तक लगाएं।
  • करीब आधे घंटे बाद बालों को ठंडे पानी से धो लें और बाद में शैंपू भी करें।

प्रक्रिया नंबर-2

  • प्याज़ को निचोड़कर उसका जूस निकाल लें।
  • इसमें दो चम्मच शहद को मिक्स कर दें।
  • प्याज़ की दुर्गंध को दूर करने के लिए, इसमें गुलाब जल मिला सकते हैं।
  • इस मिश्रण को अपने बालों में लगाएं और 40-50 मिनट बाद पानी से धो दें।

कब करें इस्तेमाल :

आप इस मिश्रण को हफ़्ते में एक बार अपने बालों पर लगा सकते हैं।

किस प्रकार है लाभकारी :

प्याज़ में एंटी-बैक्टीरियल गुण पाया जाता है, जो सिर पर संक्रमण फैलाने वाले जीवाणुओं को खत्म करने में मदद करता है | इसके अलावा, प्याज़ में उच्च मात्रा में सल्फर पाया जाता है, जो बालों के रोम छिद्रों में रक्त प्रवाह को बेहतर कर, बालों को बढ़ने में मदद करता है |

नोट : प्याज़ के रस को बालों पर लगाते समय ध्यान रखें कि अगर यह रस आंखों में चला गया, तो आपको जलन महसूस हो सकती है। इसलिए, रस को बालों पर लगाते समय और बाद में सिर धोते समय सावधानी बरतें।

 

6. मुलेठी

सामग्री :

  • एक चम्मच मुलेठी का पाउडर
  • एक कप दूध
  • एक चम्मच केसर

बनाने की विधि :

  • मुलेठी पाउडर व केसर को दूध में डालकर मिक्स कर लें।
  • रात को सोने से पहले इस मिश्रण को सिर पर उस जगह लगाएं, जहां से बाल उड़ चुके हैं।
  • अगली सुबह, सिर को अच्छी तरह से धो लें।

कब करें इस्तेमाल :

इसे हफ़्ते में दो बार सिर पर लगाएं।

इस तरह है लाभकारी :

मुलेठी में ऐसे गुणकारी तत्व मौजूद हैं, जो सिर से खुजली व डैंड्रफ को पूरी तरह से साफ कर देते हैं। साथ ही बालों को बढ़ने में मदद करते हैं

7. ग्रीन टी

सामग्री :

  • दो टी बैग्स (ग्रीन टी)
  • दो-तीन कप गर्म पानी

बनाने की विधि :http://whatslink.co/055d84

  • दोनों टी बैग्स को गर्म पानी में डाल दें और पानी के ठंडा होने तक का इंतज़ार करें।
  • टी बैग्स को बाहर निकालकर, पानी से बालों को धो लें।
  • साथ ही सिर की मसाज करें।

कब करें इस्तेमाल :

जब भी आप शैंपू करें, तो बाद में इसे कंडीशनर की तरह इस्तेमाल कर सकते हैं।

कैसे करेगा फ़ायदा :

ग्रीन टी बालों के रोम छिद्रों को उत्तेजित कर, उन्हें बालों उगाने के लिए प्रेरित करती है। इसके अलावा, यह मेटाबॉलिज्म को भी बढ़ाती है, जिससे बालों को पोषित होने में मदद मिलती है

 

 

 

क्या आप भी झड़ते बालों की समस्या से परेशान हो चुके है तो आज ही Dr. Nuskhe Hair Fall Stop Kit आर्डर करें और अपनी बालों की समस्याओं को दूर करें|

call/whatsapp 7827204210

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...
Loading...