Loading...
Loading...
Loading...

इन पेड़ो की छाल से पाए बवासीर से मुक्ति

By on June 8, 2017

जिस तरह पुराने समय में लोग पेड़ों की छाल लपेटा करते थे, और बीमार होने पर पेड़ की छाल को ही प्रयोग में लाते थे। ठीक उसी तरह पेड़ों की छाल से आज भी कई बीमारियों का इलाज किया जाता है, जिन्हे आप आम भाषा में जड़ी-बूटी कहते हैं।
अगर आप भी आयर्वेदिक उपचार के बारे में अधिक जानकारी नहीं रखते हैं तो जान लें कि कई पेड़ ऐसे होते हैं, जिनकी पत्तियां, जड़ें और छालें भी काफी लाभदायक होती हैं। जो कि डायबीटिज और बवासीर जैसी अनेक भयंकर बीमारियों को आसानी से मात देती है।
अशोक का पेड़
अशोक की छाल के साध इसके फूल को पानी में भिगोकर रख दें। इसे रात भर ऐसे ही रहने दें। सुबह उठकर इसे छानकर पी लें। अशोक की छाल का काढ़ा पीने से बवासीर जैसी बीमारी से भी छुटकारा मिलता है।

Loading...

जिस तरह पुराने समय में लोग पेड़ों की छाल लपेटा करते थे, और बीमार होने पर पेड़ की छाल को ही प्रयोग में लाते थे। ठीक उसी तरह पेड़ों की छाल से आज भी कई बीमारियों का इलाज किया जाता है, जिन्हे आप आम भाषा में जड़ी-बूटी कहते हैं।
अगर आप भी आयर्वेदिक उपचार के बारे में अधिक जानकारी नहीं रखते हैं तो जान लें कि कई पेड़ ऐसे होते हैं, जिनकी पत्तियां, जड़ें और छालें भी काफी लाभदायक होती हैं। जो कि डायबीटिज और बवासीर जैसी अनेक भयंकर बीमारियों को आसानी से मात देती है

loading...

अर्जुन का पेड़
अर्जुन इस पेड़ नाम तो सुना ही होगा। यह एक औषधीय गुणों से भरपूर है। आप अर्जुन के पेड़ की छाल को पीस लें। अब करीब एक से डेढ़ चम्मच अर्जुन की छाल का पाउडर लें और इसे 2 गिलास पानी में डालकर उबालें, इसे तब तक उबालें जब तक कि पानी अच्छी तरह से खौल न जाए। अब इसे छानकर ठंडा कर लें। इसका सेवन हर रोज करें। ऐसा करने से धमनियां खुल जाएंगी।

नीम का पेड़
नीम के पेड़ से हर एक इंसान परिचित है। इसके सेवन से स्किन से लेकर अंदरूनी बीमारी को भी छीक किया जाता है। नीम बहुत ही फायदेमंद उपचार है। इससे दाद, खुजली, पिंपल्स ठीक होता है। अगर आपको नीम का सेवन करना है तो नीम को हल्का सा पानी लेकर उस स्थान पर लगाएं जिसे ठीक करना है। अगर आप रोज 1 चम्मच नीम के चूर्ण का सेवन करेंगे तो इससे डायबिटीज जैसी बीमारी से छुटकारा मिलेगा।

loading...

बबूल का पेड़
टीवी पर आने वाला विज्ञापन ‘सुबह बबूल की तो दिन तुम्हारा’। जी हां- बबूल का पेड़ कई औषधीय गुणों से भरपूर होता है। बबूल इतना फायदेमंद है कि कि महिलाओं को बांझपन और पुरुषों में शुक्राणुओं की कमी को दूर करता है। इसके लिए बबूल की छाल को पानी में उबाल लें। अगर आपको मासिक धर्म में अधिक ब्लिडिंग होती है तो आप इस काढे को दिन में तीन बार पीएं। ऐसा करने से अधिक ब्लड आने से बचा जा सकता है।

loading...

अब पायें अपडेट्स अपने WhatsApp पर प्लीज़ अपना नाम इस नंबर +91-8447832868 पर सीधा भेजें और अपने दोस्तों को बताना ना भूलें...

About Street Ayurveda

Close