शीघ्रपतन को जड़ से मिटाते है ये कुछ बेहतरीन नुस्खे

समय से पहले वीर्य का स्खलित हो जाना शीघ्रपतन है। यह “समय” कोई निश्चित समय नहीं है पर जब “एंट्री” के साथ ही “एक्सिट” होने लगे या स्त्री-पुरुष अभी चरम पर न हो और स्खलन हो जाए तो यह शीघ्रपतन (Premature Ejaculation) है।

शीघ्रपतन के सामान्य कारण :-
शीघ्रपतन के कारणों में निम्न बातें शामिल हैं:
1: खराब हस्तमैथुन आदतें
2: तनाव या अत्यधिक मानसिक उलझन
3: मस्तिष्कीय रसायनों का असुंतलन, जो स्तर 2 के शीघ्रपतन के ठीक से इलाज न किए जाने का परिणाम होता है
स्तर 4: स्तर 3 के शीघ्रपतन का इलाज न किए जाने अथवा ठीक से इलाज न किए जाने के फलस्वरूप रोग का गंभीर रूप धारण कर लेना शीघ्रपतन के हर स्तर पर, भले ही वह जिस भी कारण से विकसित हुआ हो, पुरुष अपनी स्खलनीय प्रतिवर्ती क्रिया को नियंत्रित नहीं कर पाता है ,जिससे वह अपने मर्दाना ताकत को बनाए नहीं रख पता और उस वक्त वीर्यपात नहीं कर पता जब वह वीर्यपात करना चाहता है।

शीघ्र स्खलन की आयुर्वेदिक दवा का नाम “कामसुधा योग” है , जो हमारा पहला स्वास्थ्य उत्पाद है | इस आयुर्वेदिक दवा का निर्माण हमने आयुर्वेद संहिताओं में बताये गए वाजीकरण द्रव्यों में से प्रमुख २१ को मिलाकर किया है | यह पूर्णत: निपुण वैद्य के हाथों से निर्मित होममेड दवा है | बाजार में इसके मुकाबले एवं गुणवता की दवा उपलब्ध नहीं है | हम न तो कोई बड़े वादे करते है और न ही लोगों को गुमराह करते है | अगर इसका सेवन बताई गई विधि एवं पथ्य पूर्वक किया जाए तो सभी प्रकार के यौन कमजोरियों से मुक्ति मिलती है |

स्खलनीय प्रतिवर्ती क्रिया में मूत्रमार्ग, प्रोस्टेट ग्रंथि और शुक्राशय के चारों ओर स्थित और शिश्न के आधार पर स्थित मांसपेशियों का लयात्मक अनैच्छित संकुचन होता है, जो शुक्राशय से वीर्य को शिश्न के मार्ग से निष्कासित कर देता है। इस प्रतिवर्ती क्रिया को प्यूबोकोकिजिएस (पीसी) मांसपेशी नियंत्रित करती है।
आपके लिए अन्य महत्वपूर्ण आर्टिकल्स

 

शीघ्रपतन का घरेलु उपाय :-
शीघ्रपतन को लेकर हमारे समाज में बहूत भ्रान्तिया फैली हुई है जैसे – शीघ्रपतन एक गंभीर बीमारी है , बच्चपन की गलत हरकतों के वजह से शीघ्रपतन की समस्या ज्यादा होती है आदि | लेकिन इन भ्रांतियों को नीम-हाकिमो ने फैलाया है ये आपको जान लेना चाहिए |सर्वप्रथम आपको अपने मन से शीघ्रपतन के डर को बहार निकलना होगा | शीघ्रपतन कोई बीमारी नहीं है | ज्यादातर शीघ्रपतन का कारण हमारा भय होता है | अगर आपने सहवास के दोरान शीघ्रपतन के बारे में सोचा तो यकीं मानिये आपको उस समय शीघ्रपतन निश्चित ही होगा तो सबसे
पहले शीघ्रपतन के डर को अपने दिमाग से बाहर निकालिए , क्योंकि निम्न लिखित नुस्खे भी तभी काम करेंगे |
  • संतुलित और पौष्टिक भोजन ( nutritious food ) करें और समय पर खाना खाएँ.
  • काले चने ( Black gram ) से बने खाद्य पदार्थों का सप्ताह में 2-3 बार खाना आपके लिए फायदेमंद हो सकता है.
  • लगभग 150 ग्राम बारीक कटे हुए गाजर ( carrot ) को एक उबले हुए अंडे के आधे हिस्से में एक चम्मच मधु  मिलाकर दिन में एक बार खाएँ. इसे 1-2 महीने तक खाएँ.
  • सफ़ेद मूसली मर्दाना समस्याओं की रामबाण औषधि है इस लिए 15 gram सफेद मूसली को एक कप दूध में उबालकर दिन में 2 बार पिएँ. इसका सेवन 2 महीने तक लगातार करे |
  • शीघ्रपतन का सबसे सरल उपाय सहजन के फूलों में निहित है | 20 ग्राम सहजन के फूलों को 300 ml. दूध में तब तक उबालें जब तक दूध 200 ml रह जाये | इस दूध का सेवन 15 दिन तक करे और निश्चित ही आपको इसका सम्पूर्ण लाभ मिलेगा |

 

ankit1985

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

कमजोर शरीर को मोटा बनाये आयुर्वेदिक औषधि के साथ

Wed May 1 , 2019
कमजोर शरीर को मोटा बनाये आयुर्वेदिक औषधि के साथ इंसान के शरीर के अंदर ज्यादा मोटापा आना और शरीर का ज्यादा दुबला होना दोनों एक गंभीर समस्या मानी जाती है।यदि कोई इंसान किसी कारणवश ज्यादा मोटा होने लगे तो आगे चलकर यह काफी गंभीर समस्याएं उत्पन्न करना शुरु कर देती […]
Loading...
Loading...