Loading...
Loading...
Loading...

यूपी की इस स्कूल में 12 साल से राष्ट्र गान पर प्रतिबंध लगा हुआ है

By on September 13, 2017

उत्तरप्रदेश के इलाहाबाद में एक निजी स्कूल में पिछले 12 वर्षो से राष्ट्रीय गान, वंदे मातरम् और सरस्वती वंदना गायन पर प्रतिबंध लगा रखा है, और छात्रों के लिए भी वर्जित कर रखा है।

Loading...

इस स्कूल में राष्ट्रीय गान, वंदे मातरम् और सरस्वती वंदना गायन को गैर इस्लामी बताया जाता है। और स्वतंत्रता दिवस समारोह के दौरान राष्ट्रीय गान, वंदे मातरम् और सरस्वती वंदना गायन से छात्रों रोक लगा दी है।

loading...

अजीब स्टाफ और प्रधान
स्कूल के प्रिंसि‍पल समेत 8 शिक्षिकाओं ने इसका विरोध करते हुए इस्तीफा दे दिया था। तो वही सुप्रीम कोर्ट के फैसले बाद स्कूल सीज कर गई है। इलाहाबाद जिले के सादियाबाद इलाके में एम ए कॉन्वेंट स्कूल के प्रबंधक मोहम्मद जिया उल हक ने कहा कि यह निर्णय कुछ मुस्लिम माता पिताओं की आपत्तियों के बाद लिया गया था।

भारत भाग्य विधाता
स्कूल संचालक मोहम्मद जिया उल हक ने कहा कि राष्ट्रीय गान एक लाइन है, भारत भाग्य विधाता, जो इस्लाम के खिलाफ है, क्योंकि अल्लाह हमारे भाग्य का विधाता है, तो हम कैसे भारत भाग्य विधाता कह सकते हैं। राष्ट्रीय गान में, देश बड़ा है और हमारें लिए मजहब और खुदा सबसे बडा है तो वे कैसे यह कह सकते है और यह किसी भी सच्चे मुसलमान के लिए अस्वीकार्य है।
बारह साल……………………….
हक ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने भी यह आदेश दे रखा है कि किसी को भी उनके धर्म के खिलाफ कुछ भी जो करने के लिए किसी को मजबूर नहीं कर सकते हैं। हक ने कहा कि यह पहली बार नही है कि स्कूल में राष्ट्रीय गान, वंदे मातरम और सरस्वती वंदना वर्जित की गई है, स्कूल की स्थापना से अब तक यह वर्जित है।

loading...

कानूनी कार्रवाई
इलाहाबाद के जिलाधिकारी संजय कुमार ने बताया कि यह स्कूल जो आठवीं कक्षा तक है, मान्यता प्राप्त नहीं है। “मैं स्कूल प्रबंधन के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के लिए जा रहा हूँ। हम उन्हें सुनवाई का करने का अवसर दे देंगे। मैं शाम को प्रबंधक बैठक कर रहा हूँ और अगले कदम के बारे में फैसला करेंगे”, कुमार ने कहा।

loading...

अब पायें अपडेट्स अपने WhatsApp पर प्लीज़ अपना नाम इस नंबर +91-8447832868 पर सीधा भेजें और अपने दोस्तों को बताना ना भूलें...

About Street Ayurveda

Close