कैसे बढायें आसानी से अपना वजन

आज के ज़माने में हमारे लिए Fit रहना कितना जरुरी हो गया है. यह बात आप जानते है. आज कई लोग मोटापे (Motape) के शिकार हो रहे है और वे मोटापे के कारण बहुत परेशान है और Wajan Kam करने के लिए लगे रहते है. वही इसका दूसरा पहलू ये भी है की आज बहुत सारे लोग कम वजन (Kam vajan) या दुबलेपन से भी परेशान है जिस कारण वे खुद से हीनभावना रखते है और उनका मनोबल हमेशा low रहता है.

 

वजन बढाने और मोटा होने के सरल उपाय-

आपने कई ऐसे लड़के-लडकियों को देखा होगा जो अपनी युवावस्था में शारारिक रूप से इतने कमजोर होते है की जिन्हें देखने से लगता है की जैसे इनको खाने को कुछ मिलता ही नहीं होगा. कोई भी युवा (Youth) वह चाहे लड़की हो या लड़का इस जवानी की Age में शरीर में कुछ वजन तो होना ही चाहिए. नहीं तो ऐसी जवानी और युवा जोश का क्या फायदा ? यह बात ध्यान रखे की कम वजन किसी को भी आपकी ओर आकर्षित नहीं कर सकता.

आयुर्वेद (Aayurved) में उस व्यक्ति को कम वजन या दुबला (Dubla) कहा जाता है जिस व्यक्ति के शरीर की नसें दिखाई देती है, शरीर में सिर्फ हड्डियाँ दिखती है और जिस व्यक्ति को काम करते वक्त जल्दी थकान लग जाती है व व्यक्ति के नितम्ब, पेट और ग्रीवा शुष्क होते हैं. लेकिन दुबलापन कोई बीमारी नहीं होती है बल्कि दुबलापन व्यक्ति के भोजन, आहार-समय और लापरवाही के कारण होता है.|

 

कम वजन या दुबलेपन के साइड-इफ़ेक्ट या प्रभाव:

* कम वजन के कारण मन में हीन-भावना आती है जो हमारे व्यक्तिगत विकास के लिए नुकसानदायक है.
* दुबलेपन के कारण हमेशा Tanav में रहता है.
* कम वजन के कारण व्यक्ति लोगो के बीच जाने से कतराता है.
* कम वजन के कारण व्यक्ति को शारारिक श्रम की नौकरी (Job)में दिक्कत आती है.
* कम वजन के कारण व्यक्ति शादी में या किसी Party में जाने से डरता है.
* व्यक्ति कम वजन के कारण उन कपड़ो को नहीं पहन सकता जिन कपड़ो को पहनने का उसका मन करता है.
* व्यक्ति कम वजन के कारण अपने दोस्तों, परिवार और समाज से कटने लगता है और अन्तर्मुखी हो जाता है.
* कम वजन व्यक्ति की persanlty के लिए एक बहुत बड़ी कमजोरी होती है.
* सबसे बड़ी बात कम वजन से व्यक्ति का आत्मविश्वास (Aatmvishvas) इतना घट जाता है की वह किसी को भी face करने लायक नहीं होता.
* कम वजन व्यक्ति में निराशाजनक सोच (Negative Thinking) विकसित कर देता है और वह मानसिक रूप से भी परेशान हो जाता है.

कम वजन या पतलापन के कारण:

दुबलेपन का प्रमुख कारण कही आनुवंशिकता है तो कही व्यक्ति का पौष्टिक भोजन न लेना और Digestive System का ठीक न होना है. अगर आपका पाचन तंत्र ठीक नहीं होगा तो यह आपके शरीर को मिलने वाले जरुरी nutritions पोषक तत्वो को आपके शरीर में नहीं जाने देगा. आइये जानते है दुबलेपन के कारण :

* आनुवंशिकता के कारण कम वजन होना.
* शारीरिक श्रम के हिसाब से संतुलित भोजन न लेना.
* खाने में रुचि न होना.
* लगातार अजीर्ण, जीर्ण अतिसार, संग्रहणी जैसी बीमारियों का बने रहना.
* पाचन क्रिया का ठीक न होना.|

 

दुबलेपन का प्रमुख कारण कही आनुवंशिकता है तो कही व्यक्ति का पौष्टिक भोजन न लेना और  Diestive System का ठीक न होना है. अगर आपका पाचन तंत्र ठीक नहीं होगा तो यह आपके शरीर को मिलने वाले जरुरी nutritions पोषक तत्वो को आपके शरीर में नहीं जाने देगा. आइये जानते है दुबलेपन के कारण :

* आनुवंशिकता के कारण कम वजन होना.
* शारीरिक श्रम के हिसाब से संतुलित भोजन न लेना.
* खाने में रुचि न होना.
* लगातार अजीर्ण, जीर्ण अतिसार, संग्रहणी जैसी बीमारियों का बने रहना.
* पाचन क्रिया का ठीक न होना.

 

पूरी और गहरी नींद लें :

हमारे जीवन के लिए जिस तरह भोजन और पानी आवश्यक है ठीक उसी तरह भरपूर नींद लेना भी हमारे लिए बहुत आवश्यक है. हर रोज कम से कम 8 घंटे की गहरी नींद अवश्य ले. अच्छी नींद लेने से हमारी Body में नयी कोशिकाएं बनती है और पुरानी कोशिकाएं नए कोशिकाओ में तब्दील होती है. अच्छी नींद लेने के लिए रात को खाना खाने के बाद तुरंत सो जाये और सुबह जल्दी उठ जाये. इसलिए गहरी नींद लेना शुरू कर दे|

एक्‍सरसाइज व्यायाम करें:

व्यायाम करना हमारे लिए कितना फायदेमंद है यह तो आप जानते ही होंगे. एक्‍सरसाइज करने से हमारे शरीर में मौजूद कैलोरी सही मात्रा में हमारे शरीर के अंगो में बंट जाती है जिससे पेट की चर्बी नहीं बढती है.व्यायाम करने से कोलेस्ट्रोल और शरीर की मांसपेशियां भी अच्छी तरह बढती है, भूख खुलती है जिस कारण खाना भी अच्छी तरह से पचता है व शरीर मजबूत बनता है.

आप व्यायाम के इन उपायों को अपना सकते है- योग करना, प्राणायाम करना, पुश-अप्‍स लगाना, सिट-अप्स लगाना, दंड लगाना या कोई sports खेलना like बैडमिंटन खेलना, क्रिकेट खेलना या फूटबाल खेलना आदि|

 

रोजाना मालिश का प्रयोग करें

शरीर को मजबूत बनाने के लिए मालिश को अपनी दिनचर्या में शामिल करे. यह हमारे शरीर में रक्त के संचार को सही ढंग से संचारित करता है जिससे मांसपेशियों को सही पोषण मिलता है और शरीर का विकास अच्छी तरह होता है. आप मालिश के लिए सरसों तेल, नारियल तेल, बादाम तेल और जैतून के तेल का उपयोग कर सकते है.

पानी ज्यादा पीये 

पानी हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत लाभदायक है. इसलिए रोजाना 2 लीटर से अधिक पानी पिए. इससे शरीर में मौजूद जहरीले पदार्थ बाहर निकल जाते है और भोजन का पाचन भी अच्छी तरह से होता है. पानी हमारे शरीर में फुर्ती बनाये रखता है जिस कारण काम या एक्‍सरसाइज करते समय कमजोरी महसूस नहीं होती है.

तनाव से बचें 

तनाव कई बीमारियों की जड़ है क्योंकि जब व्यक्ति stress में रहता है तब वह अपने शरीर पर ध्यान नहीं दे पाता जिसके फलस्वरूप उसे कई बीमारियाँ घेर लेती है. यह बात आप note कर ले की जब तक आप तनाव से दूर और खुश नहीं रहोगे तब तक आपका वजन बढ़ ही नहीं सकता. इसलिए अगर आपको मोटा होना है तो चिंता, तनाव और tension को अपनी life से दूर कर ले और खुश रहना सीखे जो हमारे जिंदगी की एक अमूल्य चीज है|

जल्दी वजन बढ़ाने के लिए वरदान हैं ये उपाय-

पोषक तत्वों से भरपूर भोजन

वजन बढ़ाने से पहले ध्यान रखें कि आपको स्वस्थ होना है न कि मोटा। इसलिए खाने में उस सामग्री का इस्ते़माल करें जो शरीर को ऊर्जा प्रदान करें। कम फैट और ज्यादा कैलोरी वाला खाना खाएं।

 

स्प्राउट खाएं

प्रतिदिन स्प्राउट्स खाने से वजन तेजी से वजन बढ़ता है। आप रोजाना एक कटोरी स्प्राउट्स खाते हैं तो आपको कुछ ही दिनों में फर्क दिखेगा। स्प्राउट्स में भारी मात्रा में प्रोटीन, कैल्शियम, आयरन और कई विटामिन्य होते हैं। जो मांसपेशियों को मजबूत करने के साथ ही तेजी से वजन बढ़ाते हैं। इसके लिए आप काले चने, मूंग की दाल, सोयाबीन और गेहूं को ले सकते हैं। अगर आपको ये स्वाद में अच्छे ना लगे तो आप इसमें थोड़ा सा प्याज, टमाटर, हरी मिर्च और हरा धनिया डालकर भी खा सकते हैं। इससे आपको काफी स्वाद आएगा।

 

सोयाबीन का सूप

जो लोग सोयाबीन का सूप पीते है, उसमें भरपूर ताकत होती है क्योकि सोयाबीन में ताकत देने के गुण होते है। अगर आप भी अपना वजन बढ़ाना चाहते हैं तो स्वाद ग्रन्थियों की परवाह न करते हुए सोयाबीन के सूप को हर शाम पिएं। ताकि शरीर की नाजुक लचक से आपको छुटकारा मिल सकें।

 

केला और दूध

जब भी वजन बढ़ाने के उपायों की बात होती है तो ऐसा नहीं हो सकता कि दूध और केले का नाम पीछे रहे। क्योंकि दूध और केला दोनों ही वजन बढ़ाने के सबसे अच्छे विकल्प हैं। आप चाहें तो इन्हें अलग-अलग भी खा सकते हैं। इसके अलावा अगर आप दूध में केला फेंट कर खाएं, यह बॉडी में ताकत और शक्ति ज्यादा देता है।

नियमित एक्ससरसाइज

शरीर को फिट एंड फाइन बनाने के लिए आप नियमित रूप से व्यायाम करें। आप योगा का भी सहारा ले सकते हैं। वजन उठाने, टिवस्ट कर्ल्स और डिप्स जैसे एक्सररसाइज करने से शरीर में खून का संचार तेजी से होगा और ज्यादा भूख भी लगेगी।

आयुर्वेदिक तरीके से वजन बढ़ने के लिए लिंक पर क्लिक करें :- http://whatslink.co/fa1b61

Call/Whatsapp :7827204210

 

 

 

ankit1985

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

सफेद पानी के घरेलू उपाय

Thu Jul 18 , 2019
आज के ज़माने में हमारे लिए Fit रहना कितना जरुरी हो गया है. यह बात आप जानते है. आज कई लोग मोटापे (Motape) के शिकार हो रहे है और वे मोटापे के कारण बहुत परेशान है और Wajan Kam करने के लिए लगे रहते है. वही इसका दूसरा पहलू ये […]
Loading...
Loading...