जोड़ों के दर्द के घरेलु नुस्खे

 

जोड़ों में दर्द कई कारणों से होता है जैसे कि ऑस्टियोआर्थराइटिस (osteoarthritis), आमवातीय संधिशोथ (rheumatoid arthritis), गठिया, बुर्सा (bursa), टेन्डिटिस (tendinitis) या तनाव, मोच या अन्य चोट स्नायुबंधन (ligaments) को प्रभावित करते हैं। बुर्सा और टेंडन्स जोड़ों के आसपास होता है।

यह शरीर के किसी भी हिस्से में हो सकता है लेकिन घुटनों, कंधों और कूल्हों में यह परेशानी सबसे आम है। दर्द हल्के से गंभीर तक हो सकता है और एक या अधिक जोड़ों में सूजन और कठोरता के कारण यह समस्या उत्पन्न हो सकती है। गंभीर जोड़ों में दर्द, खासकर जब गठिया से संबंधित समस्या होती है तो इसके लिए उचित निदान और उपचार की आवश्यकता होती है।

अगर आपके जोड़ों में दर्द, सूजन और लालिमा की वजह से रहता है या तीन दिनों से अधिक समय तक यह समस्या है तो आपको अपने डॉक्टर से भी परामर्श करना चाहिए। लेकिन, आप प्राकृतिक घरेलू उपायों की मदद से भी हल्के जोड़ों के दर्द से छुटकारा पा सकते हैं। (और पढ़ें – गठिया)

 

मसाज थेरेपी संचलन और सूजन को कम करके जोड़ों के दर्द से राहत दिलाने में मदद करती है। बल्कि कई अध्ययनों से पता चला है कि रोज़ाना मसाज करने से दर्द और कठोरता से राहत मिलती है। प्रभावित क्षेत्रों पर मसाज करने के लिए नारियल तेलजैतून का तेलसरसों का तेलअरंडी का तेल या लहसुन का तेल आप गुनगुना करके इनसे अच्छे से मसाज कर सकते हैं।

घर बैठे आयुर्वेदिक औषधि व उपचार पाने के लिए निचे दिए गए नंबर पर whatsapp या call करे 7827204210

 

ankit1985

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

(स्तन) साइज बढ़ाने के 10 घरेलू उपाय

Thu May 2 , 2019
  जोड़ों में दर्द कई कारणों से होता है जैसे कि ऑस्टियोआर्थराइटिस (osteoarthritis), आमवातीय संधिशोथ (rheumatoid arthritis), गठिया, बुर्सा (bursa), टेन्डिटिस (tendinitis) या तनाव, मोच या अन्य चोट स्नायुबंधन (ligaments) को प्रभावित करते हैं। बुर्सा और टेंडन्स जोड़ों के आसपास होता है। यह शरीर के किसी भी हिस्से में हो सकता है लेकिन […]
Loading...
Loading...