जवानी को हमेशा बनाए रखने के कुछ प्राचीन तरीके…

जवानी के साथ ही सुन्दरता भी कुदरत की एक ऐसी नियामत है जो व्यक्ति को आत्मविश्वास से भरपूर रखती है। यही कारण है कि हर व्यक्ति ताउम्र जवां रहना चाहता है। लेकिन हमेशा जवान बने रहना चाहे सबका ख्वाब हो पर इस सपने को साकार करने के लिए आयुर्वेद के अनुसार जिन नियमों का पालन करना होता है उन्हें कम ही लोग जानते हैं। आज हम आपको बताने जा रहे हैं उन्हीं नियमों के बारे में जिनका पालन कर हमारे ऋषि-मुनि हमेशा स्वस्थ और जवां बने रहते थे।
– प्रात:काल ब्रह्ममुहूर्त (4-6 बजे ) के मध्य अर्थात सूरज उगने से पूर्व बिस्तर छोड़ दें।
– सुबह ब्रश और शौचादि से पूर्व ताम्बे के लोटे में रात्रि को रखा पानी पीएं,इससे मल खुलकर आता है तथा कब्ज की शिकायत नहीं होती है।

– नाश्ता या भोजन हमेशा भूख से थोड़ा कम करें तथा योग्य आहार का ही सेवन करें तथा भोजन के साथ -साथ पानी पीने की प्रवृति से बचें।

– दिनचर्या में जानबूझकर,अनजाने में या असयंमित होकर किए गए आचरण को प्रज्ञापराध की श्रेणी में रखा जाता है,इससे से बचें क्योंकि यह सभी प्रकार के शारीरिक एवं मानसिक रोगों का कारण है।

– आहार स्वयं एक औषधी है,अत:ज्ञानेन्द्रिय को वश में करते हुए ही भोजन सहित अन्य आचरण करना स्वस्थ रहने में मददगार होता है।

– शुद्ध जल एवं वायु का सेवन आयुर्वेद अनुसार रोगों से मुक्ति का मार्ग है।

– भोजन में गाय के दूध का सेवन आयुर्वेद में जीवनीय माना गया है तथा यह स्वयं में एक रसायन औषधी है जिसके नित्य सेवन से बुढापा देर से आता है।
– रोजाना एक हरड़ के सेवन से यौवन बना रहता है।
– साल में एक बार शरीर रूपी मशीन का शोधन पंचकर्म चिकित्सक के निर्देश में अवश्य करवाएं, जिससे लम्बी एवं रोगरहित आयु प्राप्त होती है।
– रोगप्रतिरोधक क्षमता को बढाने के लिए आंवले का सेवन नित्य करें।
– आहार में रेशेदार फल सब्जियों के अलावा दालों का सेवन, शरीर में किसी भी प्रकार के क्षय (टूट- फूट ) को ठीक करने में मददगार होता है।
– आहार में स्नेह अर्थात घी का नियंत्रित मात्रा में प्रयोग बढ़ती उम्र में होने वाले शारीरिक विकास के लिए आवश्यक है।
– भोजन में लाल मिर्च का सेवन अम्लपित (हाइपरएसिडीटी) एवं भूख को कम कर कब्ज उत्पन्न कर अर्श (पाइल्स) का कारण बन सकता है ,अत: आयुर्वेद में अपनी अग्नि का ध्यान रखकर ही भोजन लेने का निर्देश है।
ये कुछ आयुर्वेदिक तरीके हैं,जिनको अपनी दिनचर्या में शामिल कर कोई भी हमेशा जवां और स्वस्थ रह सकता है।

ankit1985

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

सेक्स लाइफ बर्बाद कर सकती हैं ये स्वास्थ्य समस्याएं

Wed Jan 22 , 2020
जवानी के साथ ही सुन्दरता भी कुदरत की एक ऐसी नियामत है जो व्यक्ति को आत्मविश्वास से भरपूर रखती है। यही कारण है कि हर व्यक्ति ताउम्र जवां रहना चाहता है। लेकिन हमेशा जवान बने रहना चाहे सबका ख्वाब हो पर इस सपने को साकार करने के लिए आयुर्वेद के […]
Loading...
Loading...