Shighrapatan ka ilaj: जाने शीघ्रपतन की समस्या में उपयोग किये जाने वाले उपचार विधि

घ्रपतन को पुरुषों में होने वाली एक सामान्य समस्या की तरह माना जाता है। इस समस्या से तकरीबन 4% से लेकर 40% पुरुष ग्रसित रहते हैं। इसे ज्यादातर लोग बीमारी नहीं मानते हैं बल्कि इसे एक तरह की मानसिक आदत मानते हैं। इस मानसिक आदत को आसानी से काबू भी किया जा सकता है।

आजकल के आधुनिक युग में लोगों की रहन सहन पूरी तरह बदल गई है। आज कल कम उम्र में हीं लड़के इंटरनेट और फिल्मों के माध्यम से अडल्ट और सेक्स सामग्रियां देखने लग जाते हैं। आजकल के लड़कों में जोक्स भी अडल्ट वाले ज्यादा पॉपुलर हैं। इन सब के कारण हीं लड़कों की ऐसी हीं कामुक मनोवृत्ति हो जाती है। हर समय लड़के कामुक बाते सोचते रहते हैं।

इन सब के कारण हीं आगे चल कर युवाओं की शीघ्र पतन की समस्या का सामना करना पड़ जाता है। शीघ्र पतन के साथ साथ इसके कारण स्वप्नदोष की समस्या भी हो जाती है।

शीघ्र पतन की समस्या के कारण सहवास करते वक़्त महिला साथी के चरम सुख को प्राप्त कर लेने से पहले या ऐसा भी कह सकते हैं की संतुष्ट हो जाने से पहले हीं पुरुष का वीर्य स्खलित हो जाता है। सही उपचार के माध्यम से इस समस्या को ठीक किया जा सकता है। इस लेख में पढ़ें Shighrapatan ka ilaj.

 

शीघ्रपतन एक सामान्य सी समस्या है और इसके इलाज भी उपलब्ध हैं। इस समस्या का इलाज दवाइयों, परामर्श के अलावा मनोचिकित्सा के माध्यम से किया जा सकता है।

दवाइयों से उपचार

हम यहाँ Shighrapatan Rokne Ke Upay में इस्तेमाल की जाने वाली कुछ उपयोगी दवाइयों के नाम बता रहे हैं जिसके सेवन से आप शीघ्रपतन की समस्या में लाभ प्राप्त कर सकते हैं। पर इस बात का ध्यान रखें की इन दवाइयों का सेवन किसी चिकित्सक को अपनी समस्या की जांच करवा कर हीं करें। जानते हैं इनकी दवाइयाँ।

  • परोक्सटाइन (Paroxetine): 20 mg एक दिन में सिर्फ एक बार या सेक्स करने से 3-4 घंटे पहले।
  • फ्लॉक्स्टाइन (Fluoxetine): 20 mg एक दिन में सिर्फ एक बार या सेक्स करने से 3-4 घंटे पहले।
  • डेपॉक्सटाईन (Dapoxetine): 30 mg एक दिन में सिर्फ एक बार या सेक्स करने से 3-4 घंटे पहले।
  • क्लोमपरमाइन (Clomipramine): 25-50 mg एक दिन में दो बार या सेक्स करने से 3-4 घंटे पहले।
  • सेट्रलाइन (Sertraline): 50 mg एक दिन में सिर्फ एक बार या सेक्स करने से 3-4 घंटे पहले।

बताई गई सभी Shighrapatan Ki Dawa में डेपॉक्सटाईन (Dapoxetine) और परोक्सटाइन (Paroxetine) सबसे ज्यादा फ़ायदेमंद मानी जाती है। एक दो सप्ताह तक इन दवाओं के सेवन से लाभ दिखने लगेगा। ये दवाएँ आपको दवा दुकानों में टेबलेट्स के रूप में मिल जाएंगी पर इनका सेवन किसी चिकित्सक की सलाह के बाद हीं करें।

टैबलेट्स के अलावा कुछ ऐसी वाह्य त्वचा पर लगाने वाली दवाइयाँ भी उपलब्ध हैं जिसका इस्तेमाल इस समस्या में किया जा सकता है। इन दवाओं को लिंग की वाह्य त्वचा पर लगाया जाता है। जानते हैं इन दवाओं के बारे में।

  • Lignocaine लिगनोसाइन
  • Prilocaine प्रिलोसाइन
  • उपर्युक्त दोनों दवाओं को मिक्स कर के भी इस्तेमाल करना फ़ायदेमंद होता है।

  • ये वाह्य त्वचा पर इस्तेमाल किये जाने वाले दवाएं लिंग की त्वचा को हल्का सुन्न कर देते हैं जिससे स्पर्श का आभास कम होता है। इन्हें सम्भोग से 10 मिनट पहले अपने लिंग पर लगाना पड़ता है। जिन पुरुषों के लिंग की त्वचा बहुत ज्यादा सेंसेटिव होती है उनके लिए ये दवा बहुत लाभकारी होती है।

इन वाह्य त्वचा में इस्तेमाल की जाने वाली क्रीम के साथ समस्या ये होती है की इसके इस्तेमाल से लिंग पर स्पर्श का अनुभव कम हो जाता है। इसी कारण से कुछ पुरुष इसका इस्तेमाल पसंद नहीं करते है। उनका कहना होता है की इस दवा के कारण उन्हें महिला योनि के अंदर लिंग के घर्षण का कोई आभास नहीं होता है।

वैसा ऐसा कहा जाता है की लिंग की त्वचा पर इस दवा की वजह से आने वाला सुन्नपन दरअसल दवा की मात्रा पर निर्भर होता है। अगर आप इस दवा को कम मात्रा में लगाएंगे तो ये आपके सेक्स के आनंद में बाधा नहीं बनेगा।

परामर्श अथवा काउंसलिंग से इलाज

  • मना जाता है की शीघ्रपतन की समस्या एक मनोविकार होती है। इसके इलाज के लिए आपकी मनः स्थिति को बदलन भी काफी हद तक कारगर होता है।
  • आप इसके लिए किसी मनोचिकित्सक से सलाह भी ले सकते हैं।
  • शीघ्रपतन की समस्या के उपचार में अच्छी काउंसलिंग और सही सलाह एक बहुत बड़ा रोल प्ले करती है।
  • अगर सेक्स पार्टनर्स के मध्य अच्छी और सुखद अंडरस्टैंडिंग हो और सेक्स से जुड़ी बातों पर एक दूसरे से विचार विमर्श करने में कोई हिचक ना हो तो भी शीघ्रपतन की समस्या कम हो सकती है।
  • आप अपने पार्टनर के साथ सेक्स से जुड़े सारे संवाद बिना किसी झिझक के करें। सेक्स से जुडी आपगे दिमाग में जो भी बातें या फैंटसीज हो उसे एक दूसरे के साथ साझा करें। ऐसा करने से शीघ्रपतन की समस्या में बहुत राहत मिलेगी।

उपर्युक्त उपचारों के अलावा आप कुछ सेक्स के दौरान कुछ टेक्नीक अपना कर भी इस समस्या में लाभ पा सकते हैं।

  • सेक्स करते समय जब पुरुष को स्खलन होने का आभास होने लगे तो आप अपनी लिंग महिला साथी की योनि से 20-30 सेकंड्स के लिए बाहर निकाल लें और फिर 20-30 सेकंड्स के बाद पुन: सेक्स करें।
  • ये क्रिया आप कई बार कर सकते हैं। सेक्स करते समय ऐसा करना मुश्किल होता है पर शीघ्रपतन की समस्या से छुटकारा पाने के लिए ये बहुत उपयोगी टेक्नीक है।
  • इस समस्या में कुछ Yoga For Shighrapatan भी आपकी मदद कर सकते हैं। योग की विधा में बहुत सारे योगासन मौजूद हैं जिसके अभ्यास से शीघ्रपतन की समस्या को कम किया जा सकता है।

इस लेख में आपने पुरुषों में होने वाली एक आम समस्या शीघ्रपतन के बारे में बहुत सारी बातें पढ़ी। इसमें हमने आपको इस समस्या के कारणों और उपचारों के बारे में बहुत सारी उपयोगी बातें बताई। अगर आप इस समस्या से परेशान हैं तो इस लेख में बताये सभी उपचारों का इस्तेमाल करें और समस्या से निजात पा लें।

ankit1985

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

ब्रेस्ट का आकार बढ़ाने के 10 घरेलू उपाय तेल व आसान तरीके

Thu May 9 , 2019
घ्रपतन को पुरुषों में होने वाली एक सामान्य समस्या की तरह माना जाता है। इस समस्या से तकरीबन 4% से लेकर 40% पुरुष ग्रसित रहते हैं। इसे ज्यादातर लोग बीमारी नहीं मानते हैं बल्कि इसे एक तरह की मानसिक आदत मानते हैं। इस मानसिक आदत को आसानी से काबू भी […]
Loading...
Loading...