दिमाग तेज करने के लिए चाहिए केवल 40 सेकेंड, यकीन नहीं होता तो जानिए

कभी-कभी यह ख्याल आता है कि दिमाग भी कितने काम की चीज़ है, इतना छोटा-सा होकर भी हमारे पूरे शरीर पर नियंत्रण रखता है दिमाग। दिमाग की शक्तियों का अंदाजा भी हम नहीं लगा सकते, यह हरदम हमारे लिए काम करता है। जब हमें दिमाग की जरूरत हो यह हाजिर रहता है, हर बेशक थक जाएं लेकिन दिमाग चलता रहता है।

2दिमाग कभी थकता नहीं
डॉ नुस्खे de_stress kitऑर्डर करने के लिए लिंक पर क्लिक करें
whatshap no:8882144978

वो बात अलग है कि जब हम दिमागी रूप से थक चुके होते हैं तो खुद से यही कहते हैं कि आज दिमाग काम नहीं कर रहा, लेकिन हम गलत हैं। उस समय भी दिमाग चल रहा है, वह हजार तरह के ख्याल बुन रहा है। उस समय भी दिमाग में वह सभी चिंताएं, वह सभी ख्याल चल रहे हैं जिसे हम पूरा करना चाहते हैं लेकिन थकान के चलते दोष अपने दिमाग को देते हैं।साइंस के तथ्य

3साइंस के तथ्य

क्या आप जानते हैं कि साइंस के मुताबिक इस सृष्टि में हर मनुष्य को एक जैसा दिमाग मिलता है, बस उसे कैसे इस्तेमाल किया जाए और सक्षम बनाया जाए यह भिन्न-भिन्न लोगों पर निर्भर करता है। शायद आपको जानकर हैरानी होगी लेकिन यह सत्य है कि दिमाग के पास बातों को याद रखने की कोई सीमा नहीं होती।

4अनगिनत बातें याद रखता है दिमाग

जी हां…. आप चाहे तो हजारों बातें, लाखों या करोड़ो बातें भी अपने दिमाग में भर सकते हैं। दिमाग कभी भी यह नहीं कहेगा कि मैं भर गया हूं और अब और बातें याद नहीं रख सकता। यह केवल हमारी मानसिक आवस्था है कि हम समय-समय पर जब बातों को दोबारा दोहराते नहीं हैं तो उन्हें भूलते जाते हैं।

सक्षम है दिमाग

हमार दिमाग अनगिनत बातों को याद रख सकने में सक्षम होता है तो फिर हम बातों को भूलते क्यों जाते हैं? कुछ समय बाद नहीं, बल्कि कुछ ही पलों के बाद कई बार हम बातों को सही से याद नहीं कर पाते।

6आंखों देखी बातें

साइंस का मानना है कि सुनने की तुलना में जो चीज़ें देखी गई हों वह और भी अच्छे से याद रहती हैं, लेकिन कई बार ऐसा होता है कि आंखों देखी बातें भी हम कुछ ही पलों में भूल जाते हैं। पूरी तरह से नहीं तो कम से कम उन्हें उसी रूप में याद रख सकना हमारे लिए असंभव-सा हो जाता है।

7याद रखने की क्षमता

आज इन बातों को सामने रखने के पीछे हमारा एक कारण है, कुछ समय पहले ही बीबीसी ऑनलाइन में प्रकाशित एक रिपोर्ट पढ़ी जिसमें यह लिखा था कि कैसे हम एक आसान तरकीब से लंबे समय तक बातों को याद रख सकते हैं। आज वही रिपोर्ट आपके साथ यहां साझा करने जा रहे हैं……..

8एक शोध

बीबीसी ऑनलाइन में छपी एक रिपोर्ट के मुताबिक शोधकर्ता क्रिस बर्ड्स ने दिमागी ताकतों पर शोध किया है। उनकी रिपोर्ट में यह सवाल उठाया गया है कि आखिरकार वह क्या कारण है जिससे हम बातों को लंबे समय तक याद नहीं रख पाते।

9भूलने क्यों लगते हैं

बर्ड्स का कहना है कि कई बार हम आंखों से कोई दृश्य देखते हैं, लेकिन जब दोबारा से हमसे कोई उस दृश्य की व्याख्या मांगता है तो हम उसे टूटे-फूटे अंदाज़ में बताते हैं। असल में किस घटना के बाद कौन सा पल आया हम ठीक से याद नहीं कर पाते हैं, ऐसा क्यों!

10दृश्य देखने के तुरंत बाद

इसका उत्तर और साथ ही इसका समाधान निकालने के लिए भी बर्ड्स ने कुछ लोगों पर शोध किया। इस शोध के अंतर्गत उसने कुछ लोगों को ब्रेन स्कैनर के भीतर रहते हुए यूट्यूब पर कुछ वीडियो देखने को कहा। वीडियो देखने के तुरंत बाद ही कम से कम 40 सेकेंड के लिए दोबारा से उस वीडियो के दृश्यों को दिमाग में याद करने को कहा।

11बड़े काम का है ये नुस्खा

इससे बर्ड्स को यह हासिल हुआ कि वीडियो देखने के तुरंत बाद ही जब लोगों ने खुद के दिमाग को ही उस वीडियो के दृश्यों को समझाया तो वे उसे और भी अच्छे से याद रखने में सफल हुए। जब उनसे थोड़ी देर बाद वीडियो के बार में पूछा गया तो बिना किसी गलती के उन्होंने वीडियो को बिल्कुल सही तरीके से स

12क्या है कारण

इसका कारण बर्ड्स ने बताया कि जब वे वीडियो को देख रहे थे तो शायद उसे एंज्वाय कर रहे थे, लेकिन जब वीडियो देखने के तुरंत बाद उन्हें उसे याद करने को कहा गया था तब उन्होंने अपनी असली प्रक्रिया शुरू की। इस प्रक्रिया में उन्होंने वीडियो के एक-एक दृश्य को दिमाग में जोड़ा, उससे एक कहानी बनाई और यह कहानी अंतत: पूरी वीडियो के रूप में उनके सामने आई।

13चीजों को जोड़ते हैं हम

ऐसा करते हुए वे वीडियो को कई बार अपनी खुद की लाइफ से या अपने पसंदीदा लोगों से जोड़ते हैं। जैसे कि वीडियो के किसी विशेष दृश्य में देखा हुआ इंसान यदि उन्हें किसी प्रसिद्ध कलाकार जैसा लगा, तो वे उस दृश्य को कभी भूलेंगे नहीं।

डॉ नुस्खे de_stress kitऑर्डर करने के लिए लिंक पर क्लिक करें
whatshap no:8882144978
14दिमाग तेज करने का एक उदाहरण

बर्ड्स के मुताबिक बातों को याद रख सकने का यह तरीका काफी काम का है। उदाहरण के लिए यदि आप किसी दुर्घटना के इकलौते गवाह बन गए हैं, आपने वह घटना घटते हुए अपनी आंखों से देखा लेकिन धीरे-धीरे जब तक बयान देने का समय आया, आपके दिमाग में घटना संबंधी दृश्य धुंधले पड़ने लगे।

15आप भी आज़माएं

यदि उस समय कोई बातों को याद करने के इस तरीके को अपनाए तो वह शायद कभी भी उस घटना को भुला नहीं सकेगा। बर्ड्स के मुताबिक घटना के तुरंत बाद केवल आधा मिनट का समय भी उस दृश्य को लंबे समय तक याद रख सकने के लिए काफी है।

16दिमाग तेज करने के प्राकृतिक उपाय

लेकिन यदि आप प्राकृतिक रूप से दिमाग तेजे करने में इच्छुक हैं, तो इसमें भी हम आपकी सहायता कर सकते हैं। उपरोक्त बताए गए उपाय तो एक शोध का आधार है, जिससे हम अपनी मेमोरी को तेज़ कर सकते हैं। लेकिन कुछ प्राकृतिक जड़ी-बूटियां भी दिमाग तेजे करने में आपकी सहायता कर सकती हैं। आगे की स्लाइड्स में पाएं एक लिफ्ट…

17हल्दी से दिमाग तेज करें

सुंदरता या फिर खाद्य पदार्थों का स्वाद बढ़ाने के लिए हल्दी जरूर फायदेमंद है, लेकिन आप शायद ना जानते हों कि यह दिमाग भी तेज़ करती है। दबसे अच्छी बात यह है कि हल्दी अन्य जड़ी-बूटियों की तुलना में आसानी से उपलब्ध भी हो जाती है। इसे पाने के लिए तो आपको किसी प्रकार की मशक्कत करने की आवश्यकता भी नहीं है।

18मात्रा ठीक रखें

दिमाग को तेज करने के लिए भी करें। कैलिफोर्निया यूनिवर्सिटी में हुए शोध के अनुसार, हल्दी में पाया जाने वाला रासायनिक तत्व कुरकुमीन दिमाग की क्षतिग्रस्त कोशिकाओं को रिपेयर करने में मदद करता है और इसके नियमित सेवन से एल्जाइमर रोग नहीं होता है। इसलिए आप इसे गर्म दूध में मिलाकर पी लें, फायदा होगा लेकिन ध्यान रहे कि ऐसा रोज़ाना ना करें।

 

ankit1985

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

आयुर्वेदिक उपाय :गुडहल के फूल के इन 13 फायदों को आप नहीं जानते होंगे

Thu Mar 19 , 2020
कभी-कभी यह ख्याल आता है कि दिमाग भी कितने काम की चीज़ है, इतना छोटा-सा होकर भी हमारे पूरे शरीर पर नियंत्रण रखता है दिमाग। दिमाग की शक्तियों का अंदाजा भी हम नहीं लगा सकते, यह हरदम हमारे लिए काम करता है। जब हमें दिमाग की जरूरत हो यह हाजिर […]
Loading...
Loading...